इंदौर से रतलाम, दिल्ली और बीकानेर जाना हुआ मुश्किल, जानिए रेलवे ने कौन सी ट्रेनें निरस्त कीं

रेलवे में नौकरियां. (File Photo)

रेलवे में नौकरियां. (File Photo)

कोरोना का ट्रेनों पर असर: रेलवे ने इंदौर से रतलाम, दिल्ली और बीकानेर जाने वाली कुछ ट्रेनों को निरस्त कर दिया है. रेलवे का कहना है कि यात्री नहीं मिल रहे. जबकि कई स्टेशन मास्टरों के कोरोना संक्रमित होने की खबर भी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 26, 2021, 4:13 PM IST
  • Share this:
इंदौर. इंदौर सहित फतेहाबाद-रतलाम सेक्शन बंद होने जा रहा है. रेलवे ने इसकी तैयारी कर ली है. इस रूट पर कुछ ट्रेनों को 20 मई तक निरस्त कर दिया गया है. इसके अलावा चार ट्रेनों को शॉर्ट टर्मिनेट और दो ट्रेनों को डायवर्ट कर दिया है. वहीं, रेलवे सेक्शन के कर्मचारियों को भी शिफ्ट करेगा.

जानकारी के मुताबिक, रेलवे कह रहा है कि इंदौर-रतलाम में लॉकडाउन है और बुकिंग बेहद कम है, इसलिए ट्रेनों को निरस्त किया जा रहा है. जबकि दूसरी ओर सूत्र बताते हैं कि लक्ष्मीबाई नगर से रतलाम सेक्शन के 12 से ज्यादा कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. इनमें ज्यादातर स्टेशन मास्टर हैं. कर्मचारियों में भी संक्रमण तेजी से बढ़ रहा था इसलिए भी रेलवे ने यह निर्णय लिया.

Youtube Video


इन ट्रेनों को गिया गया निरस्त
रेलवे ने महू-इंदौर-रतलाम के बीच 5 डेमू ट्रेन, इंदौर-दिल्ली साप्ताहिक एक्सप्रेस ट्रेन, इंदौर-बीकानेर एक्सप्रेस को निरस्त कर दिया है.

शॉर्ट टर्मिनेट ट्रेन

इंदौर-ग्वालियर ट्रेन इंदौर-रतलाम के बीच निरस्त और इंदौर-भिंड ट्रेन इंदौर-रतलाम के बीच निरस्त कर दी गई है.



डायवर्ट ट्रेन

इंदौर-जोधपुर एक्स. को वाया उज्जैन, नागदा-रतलाम होकर चलाया जाएगा.

ये है इंदौर की हालत

गौरतलब है कि कोरोना ने शहर की हालत बेहद खराब कर रखी है. इंदौर में पिछले 24 घंटों में 1782 कोरोना के नए मरीज सामने आए. शहर में ऑक्सीजन की किल्लत कई दिनों से बरकरार है. हालांकि प्रशासन प्रतिदिन कई टन ऑक्सीजन मंगवा रहा है, लेकिन डिमांड ज्यादा होने के कारण इसकी कमी बनी हुई है. ऑक्सीजन के लिए परिजन सिलेंडर लेकर दिनभर भटकते रहते हैं. शहर के विभिन्न अस्पतालों में भी सिलेंडर की कमी है. परेशान लोग ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए भटक रहे हैं.

जिला प्रशासन द्वारा सिलेंडर की आपूर्ति के लिए तेजी से प्रयास किए जा रहे हैं. अफसरों के मुताबिक प्रतिदिन 100 टन ऑक्सीजन आ रही है. लेकिन डिमांड ज्यादा होने के कारण दिक्कतें आ रही हैं. प्रयास चल रहे हैं कि जल्द से जल्द इसमें सुधार आ जाए. 19 अप्रैल को एक ही दिन में पहली बार 120 टन ऑक्सीजन इंदौर पहुंची थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज