इंदौर के सरकारी अस्पताल में नवजात बच्चे की एड़ी और अंगूठा चूहे ने कुतरा

बच्चा प्री-मैच्योर था. उसका वजन करीब 1.4 किलो है. (सांकेतिक फोटो)

बच्चा प्री-मैच्योर था. उसका वजन करीब 1.4 किलो है. (सांकेतिक फोटो)

उन्होंने बताया कि घटना की जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति गठित की गई है जिसमें एमवाईएच (MYH) के दो डॉक्टर और एक प्रशासकीय अधिकारी शामिल हैं.

  • Share this:

इंदौर. इंदौर (Indore) के एक सरकारी अस्पताल (Government Hospital) में सोमवार को कथित तौर पर चूहों (Rats) ने नवजात बच्चे की एड़ी और पैर के अंगुठा को कुतर दिया. इस घटना से सकते में आए अस्पताल प्रशासन ने आनन-फानन में जांच समिति बना दी है. शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय (एमवाईएच) के अधीक्षक प्रमेंद्र ठाकुर ने बताया, ’हमारे अस्पताल की नर्सरी (वह स्थान जहां नवजात बच्चों को देख-भाल के लिए रखा जाता है) में एक बच्चे की एड़ी चूहों द्वारा कुतरे जाने का मामला सामने आया है. हम मामले की विस्तृत जांच करेंगे.’

उन्होंने बताया कि घटना की जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति गठित की गई है जिसमें एमवाईएच के दो डॉक्टर और एक प्रशासकीय अधिकारी शामिल हैं. एमवाईएच अधीक्षक ने चूहों के कथित हमले के शिकार नवजात बच्चे की पहचान का तुरंत खुलासा नहीं किया और घटना का विस्तृत विवरण भी नहीं दिया.

अंगूठा और एक अंगुली को चूहे ने काटा है

जानकारी के मुताबिक, बच्चा प्री-मैच्योर था. उसका वजन करीब 1.4 किलो है. उसे देखरेख के लिए नर्सरी में वार्मर पर रखा गया था. बच्चे की मां प्रियंका सोमवार सुबह उसे दूध पिलाने गई तो दंग रह गई. इसके बाद मामला सामने आया. इसके बाद ड्यूटी पर तैनात आरएसओ को अधीक्षक कार्यालय बुलवाया गया. प्लास्टिक सर्जन से जांच करवाई गई. जांच के बाद सामने आया कि बच्चे के पैर का अंगूठा और एक अंगुली को चूहे ने काटा है.

 दादा-दादी ने जब यह देखा तो वे काफी नाराज हुए थे

बता दें कि एक हफ्ते पहले भी इस अस्पताल में कुछ तरह का मामला सामने आया था. तब नर्सरी में एक नवजात का पैर झुलस गया था. अब उसे बच्चे का इलाज निजी अस्पताल में चल रहा है. उस बच्चे को जिस वार्मर में रखा गया था वह इतना गर्म था कि मासूम के पैर में छाले आ गए थे और लाल हो गया था. दादा-दादी ने जब यह देखा तो वे काफी नाराज हुए थे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज