लाइव टीवी
Elec-widget

इंदौर में बिल्डर के घर डाका, गार्ड को बंधक बनाकर घर में दाख़िल हुए डकैत

Vikas Singh Chauhan | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 27, 2019, 12:22 PM IST
इंदौर में बिल्डर के घर डाका, गार्ड को बंधक बनाकर घर में दाख़िल हुए डकैत
इंदौर में बिल्डर के घर डकैती पड़ी

डॉग स्क्वायड (Dog squad) को भी मौके पर भेजा गया, लेकिन डॉग दस्ता कुछ दूरी के बाद भटक गया. पता चला है कि पुलिस (police) को भटकाने के लिए बदमाश दो अलग अलग दिशा में भागे हैं.

  • Share this:
इंदौर. इंदौर (indore) के नामी बिल्डर कैलाश गोयल (builder kailash goyal) के घर डाका (Robbery) पड़ गया. हथियार बंद डकैतों ने घर पर तैनात सुरक्षा गार्ड (Security guard) और परिवार को पिस्टल की नोंक पर बंधक बनाकर घर में डकैती डाली.डकैतों के फुटेज, घर में लगे सीसीटीवी (cctv) कैमरे में क़ैद हुए हैं. लेकिन पुलिस के सीसीटीवी कैमरे बंद पड़े थे.

इंदौर के लसूड़िया थाना इलाके में रहने वाले नामी बिल्डर कैलाश गोयल के घर डाका पड़ गया. करीब आधा दर्जन हथियार बंद बदमाश उनके घर में दाखिल हुए. उन्होंने पहले घर के बाहर बैठे सुरक्षा गार्ड को पिस्टल दिखाकर धमकाया, उसकी रायफल छीन ली और फिर उसे बंधक बना लिया. उसके बाद बदमाश घर में दाखिल हुए. उन्होंने बिल्डर के परिवार के सदस्यों को भी बंधक बनाया और उनके मोबाइल फोन छीन लिए. बदमाश घर में रखी एक लाख से अधिक नगदी सहित सोने चांदी के जेवरात लेकर भाग खड़े हुए.भागते वक़्त रास्ते में बदमाशों ने एक दो पहिया वाहन चालक को भी निशाना बनाया और उसकी एक्टिवा छीन कर भाग गए.

बायपास के रास्ते भागे
घटना को अंजाम देने के बाद बदमाशों के बायपास के रास्ते भागने की जानकारी मिली है. सर्चिंग के दौरान पुलिस को कुछ दूरी पर बिल्डर के परिवार के सदस्यों के मोबाइल फोन मिल गए.

डॉग स्क्वायड भी भटक गया
डकैती की वारदात के बाद मौके पर  पुलिस के आधा दर्जन से अधिक वरिष्ठ अधिकारी पहुंचे और जांच शुरू कर दी. डॉग स्क्वायड को भी मौके पर भेजा गया, लेकिन डॉग दस्ता कुछ दूरी के बाद भटक गया. पता चला है कि पुलिस को भटकाने के लिए बदमाश दो अलग अलग दिशा में भागे हैं. हालांकि बदमाशों की तस्वीरें बिल्डर के घर में लगे सीसीटीवी कैमरे में क़ैद हो गई हैं.

पुलिस की फिर खुली पोल
Loading...

इस वारदात के बाद से पुलिस की सख्ती और स्मार्टनेस की कलई खुल गई है. एक दल पुलिस कंट्रोल रूम पहुंचा और चौराहे के सीसीटीवी जांचने का प्रयास किया ताकि बदमाशों के बारे में जानकारी मिल सके. पता चला है कि सिटी सर्विलांस के स्कीम नंबर १३६ के चौराहे के सीसीटीवी कैमरे बंद पड़े थे.

पुलिस का दावा
पुलिस अधीक्षक यूसुफ कुरैशी के मुताबिक़ मौके पर पहुंच कर तकनीकी एवं समस्त बिदुओं पर परीक्षण किया गया. डकैती की वारदात को सुलझाने के लिए तमाम अधिकारियों को अलग अलग निर्देश दिए गए हैं. जल्द आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 27, 2019, 12:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...