लाइव टीवी

दक्षिणा को लेकर बाहुबली विधायक पर भड़के संत, घर के बाहर किया हंगामा!

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 6, 2019, 8:57 PM IST
दक्षिणा को लेकर बाहुबली विधायक पर भड़के संत, घर के बाहर किया हंगामा!
दादा दयालु के नाम से शहर में मशहूर हैं विधायक रमेश मेंदोला.

बीजेपी के बाहुबली विधायक रमेश मेंदोला (BJP MLA Ramesh Mendola) के घर के बाहर साधु-संतों (Sadhu-Saints) ने दक्षिणा नहीं मिलने पर जमकर हंगामा किया. आपको बता दें कि विधायक हर साल अपनी मां की पुण्यतिथि पर भजन संध्या करवाते हैं.

  • Share this:
इंदौर. मध्‍य प्रदेश का मिनी मुंबई कहने जाने वाले इंदौर के दो नंबर विधानसभा क्षेत्र के बीजेपी के बाहुबली विधायक रमेश मेंदोला (BJP MLA Ramesh Mendola) के घर के बाहर मंगलवार रात साधु-संतों (Sadhu-Saints) ने जमकर हंगामा किया. आरोप ये है कि दूरदराज से आए साधु-संतों को दक्षिणा नहीं दी गई. बता दें, मेंदोला हर साल मां की पुण्यतिथि (Mother Death Anniversary) पर भजन संध्या करवाते हैं. जबकि इस बार भी उन्होंने प्रख्यात भजन गायिका तृप्ति शाक्य को बुलवाया था. नंदानगर के गणेश मंदिर परिसर (Ganesh temple complex) में भजन रखे गए थे और सैकड़ों साधु-संतों को न्यौता देकर बुलाया गया था. कार्यक्रम के समापन के बाद जब दक्षिणा की बारी आई, तो साधु-संतों ने खाली हाथ लौटाना शुरू कर दिया.

यही नहीं, दक्षिणा ना मिलने से साधु-संत गुस्‍सा हो गए और उन्होंने हंगामा मचाना शुरू कर दिया. जबकि उन्होंने मेंदोला के घर के सामने धरना भी दिया और जब कुछ नेताओं ने समझाने की कोशिश की, तो साधुओं ने उन पर भी गुस्सा जताना शुरू कर दिया. साधुओं का आरोप था कि उन्हें धक्का देकर भगा दिया गया है. लिफाफे में हर बार पैसे दिए जाते थे, लेकिन इस बार नहीं दिए गए. वैसे साधुओं के गुस्से का वीडियो भी वायरल हुआ है.

दादा दयालु के नाम से मशहूर रमेश मेंदोला
इंदौर के विधानसभा क्षेत्र दो से लगातार तीन बार से बीजेपी विधायक रमेश मेंदोला शहर में 'दादा दयालु' के नाम से जाने जाते हैं. वह अपनी विधानसभा की जनता के लिए 24 घंटे अपने दरबार खुले रखते हैं. लोगों की हर तरह की मदद के लिए वो हमेशा तैयार रहते हैं, इसलिए लोगों ने उनका नाम दादा दयालु रख दिया. लोग बताते हैं कि वे बोलते बहुत कम हैं और उनका काम बोलता है. उनके घर पर सुबह से लोगों को का तांता लगा रहता है और कोई भी व्यक्ति खाली हाथ नहीं जाता है. वे 2013 के चुनाव में एमपी में सबसे ज्यादा वोटों से जीतने वाले विधायक बने, तो 2018 का चुनाव भी लम्बे अंतर से जीते हैं. उन्होने कांग्रेस के मोहन सेंगर को 71 हजार से ज्यादा मतों से हराया था.

अपनी मां की पुण्यतिथि पर हर साल भजन संध्या करवाते हैं
बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के सबसे खास माने जाने वाले विधायक रमेश मेंदोला हर साल अपनी मां की पुण्यतिथि पर भजन संध्या का आयोजन करवाते हैं. इस बार उन्होने विख्यात भजन गायिका तृप्ति शाक्य को बुलवाया था.शहर के नंदानगर के गणेश मंदिर में आयोजित कार्यक्रम में सैकड़ों की संख्या में साधु-संतों को न्यौता देकर बुलाया गया था. कार्यक्रम के समापन के बाद जब दक्षिणा की बारी आई तो साधु-संतों को खाली हाथ लौटाना शुरू कर दिया. जबकि हर साल साधु संतों को दक्षिणा के लिफाफे बांटे जाते थे, लेकिन इस बार उनके समर्थकों ने साधु-संतों के साथ दुर्व्यवहार करना शुरू कर दिया जिससे हंगामा हो गया. यही नहीं, साधु-संतों ने विधायक के घर के बाहर धरना भी दिया.

ये भी पढ़ें-
Loading...

मुरैना की 3 फर्मों ने यूको बैंक को लगाई 48 करोड़ की चपत, CBI ने दर्ज की FIR

बंदरिया अपने घायल बच्‍चे को लेकर पहुंची अस्‍पताल, स्‍टाफ की आंखें हो गईं नम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2019, 7:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...