नरम नहीं पड़े ज्योतिरादित्य सिंधिया के तेवर, कहा- आलाकमान को तय करना है PCC अध्यक्ष
Indore News in Hindi

नरम नहीं पड़े ज्योतिरादित्य सिंधिया के तेवर, कहा- आलाकमान को तय करना है PCC अध्यक्ष
ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा-मैं कांग्रेस का सिपाही हूं, कांग्रेस में ही रहूंगा

ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindhiya) आज इंदौर (Indore) में पार्टी के तमाम गुटों के विधायकों और कार्यकर्ताओं से मिलते रहे. उत्साह से लबरेज़ सिंधिया ने कहा कि PCC अध्यक्ष का फैसला आलाकमान को तय करना है.

  • Share this:
इंदौर. पूर्व केंद्रीय मंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस में शामिल ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindhiya) का रविवार को इंदौर पहुंचने पर जमकर स्वागत किया गया. उन्होंने इंदौर (Indore) में पार्टी के तमाम खेमों के नेताओं और कार्यकर्ताओं से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने बीजेपी पर जमकर हमला बोला. पीसीसी अध्यक्ष (MPCC President) को लेकर पूछे गए सवाल पर सिंधिया ने कहा कि ये तय करना हाईकमान का काम है. जानकारों के मुताबिक, सिंधिया का ये वृहद जनसंपर्क किसी खास रणनीति की ओर इशारा करता है.

इंदौर में सिंधिया का वृहद जनसंपर्क
कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया दिल्ली से सीधे इंदौर पहुंचे. यहां पहुंचते ही कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार तरीके से स्वागत किया. सिंधिया सबसे पहले कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला के घर पहुंचे जहां उनका जमकर स्वागत किया गया. इसके बाद सिंधिया इंदौर प्रेस क्लब के पूर्व अध्यक्ष दिवंगत शशिन्द्र जलधारी के घर वालों से मिलने पहुंचे. यहां से वो देपालपुर विधायक विशाल पटेल और बाद में पूर्व विधायक सत्यनारायण पटेल के घर उनसे मिलने भी पहुंचे.

News - इंदौर में सिंधिया ने कहा- कार्यकर्ताओं से मिलने आया हूं
इंदौर में सिंधिया ने कहा- कार्यकर्ताओं से मिलने आया हूं

इंदौर पहुंचने के बाद सिंधिया ने राजबाड़ा स्थित बांके बिहारी मन्दिर में दर्शन भी किये, इस दौरान बड़ी संख्या में कार्यकर्ता भी उनके साथ मौजूद थे. सिंधिया आज कांग्रेस कार्यकर्ताओ और नेताओं से सीधा संवाद करने के लिये रंगून गार्डन में आयोजित पार्टी के कार्यक्रम में भी भाग लेंगे. सिंधिया शाम को इंदौर शहर के कार्यकारी अध्यक्ष विनय बाकलीवाल से उनके घर पर मुलाकात कर सकते हैं. देर शाम एमपीसीए की बैठक में शामिल होकर सिंधिया इंदौर से सीधे ग्वालियर प्रस्थान करेंगे.



आलाकमान का फैसला मान्य होगा
हाल ही धारा 370 के मुद्दे पर मोदी सरकार की तारीफ करने के बाद ये अटकलें तेज हो चली थीं कि सिंधिया नाराज होकर बीजेपी में शामिल हो सकते हैं. लेकिन दिल्ली में आलाकमान से मुलाकात के बाद इंदौर में उन्होंने साफ कर दिया प्रदेश में कांग्रेस संगठन को और भी मजबूत करना है, जिसके बाद सारे राजनीतिक कयास और उनके बीजेपी में शामिल होने की अटकलें अपने आप ही खत्म हो गईं. इंदौर में विधायक संजय शुक्ला के घर पर मीडिया से बातचीत के दौरान सिंधिया ने कहा उनका इंदौर आने का मकसद कार्यकर्ताओं से मुलाकात करना और बारिश से प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करना है. प्रदेश अध्यक्ष के सवाल पर सिंधिया ने कहा कि कांग्रेस आलाकमान जो फैसला देगा वो मान्य होगा.

संगठन को मज़बूत करना है
मेट्रो ट्रेन को लेकर श्रेय लेने की राजनीति के सवाल पर सिंधिया ने साफ कर दिया कि मेट्रो ट्रेन कांग्रेस की देन है और बीजेपी को श्रेय लेने की आदत है क्योंकि बीजेपी के नेता केवल बयान देना जानते हैं. सिंधिया ने बीजेपी पर निशाना साधा और कहा कि बीजेपी का काम सवाल उठाना है लेकिन कांग्रेस का काम कार्य को करना है. कुल मिलाकर इंदौर में सिंधिया ने ये साफ कर दिया कि वो प्रदेश में कांग्रेस संगठन को मजबूत करने की कोशिश में जुटे हुए हैं. जिस उत्साह से सिंधिया ने ये दौरा किया है साफ है कि वे प्रदेश अध्यक्ष पद की रेस में अभी भी मज़बूती से बने हुए हैं.

ये भी पढ़ें -
संतोष गंगवार पर भड़कीं प्रियंका गांधी, कहा- उत्‍तर भारतीयों का अपमान करके बच नहीं सकते

सऊदी अरामको पर ड्रोन हमले के बाद भारत की चिंता बढ़ी, दोगुना हो सकता है तेल का दाम!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज