• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • आखिर क्यों स्मृति ईरानी का यह सच खोला कांग्रेसी नेता ने सबके सामने?

आखिर क्यों स्मृति ईरानी का यह सच खोला कांग्रेसी नेता ने सबके सामने?

स्मृति ईरानी ने कहा, "मायावती जी आप वरिष्ठ सदस्य हैं और आप जवाब चाहती हैं. मैं जवाब देने के लिए तैयार हूं. अगर आप मेरे जवाब से संतुष्ट नहीं होंगी, तो मैं अपना सिर काटकर आपके कदमों में रख दूंगी."

स्मृति ईरानी ने कहा, "मायावती जी आप वरिष्ठ सदस्य हैं और आप जवाब चाहती हैं. मैं जवाब देने के लिए तैयार हूं. अगर आप मेरे जवाब से संतुष्ट नहीं होंगी, तो मैं अपना सिर काटकर आपके कदमों में रख दूंगी."

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पहले कांग्रेस में शामिल होना चाहती थीं. वे राजनीतिक दल में शामिल होने के लिए भटक रही थीं.

  • Share this:
    कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने दावा किया है कि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पहले कांग्रेस में शामिल होना चाहती थीं. उन्होंने कहा कि ईरानी की शैक्षणिक योग्यता का भी पता नहीं है.

    हरिद्वार में आश्रम चलाने वाले संत ने किया साध्‍वी का रेप


    शुक्रवार को इंदौर में मीडिया से बातचीत में दिग्विजय सिंह ने कहा कि वे राजनीतिक दल में शामिल होने के लिए भटक रही थीं और वह कांग्रेस में शामिल होना चाहती थीं.

    जेएनयू मुद्दे पर स्मृति ईरानी के भाषण पर प्रतिक्रिया देते हुए दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर उनकी शैक्षणिक योग्यता पर सवाल उठाए हैं. दिग्विजय ने कहा कि ईरानी की शैक्षणिक योग्यता का भी पता नहीं है.

    VIDEO- मुरथल गैंगरेप में टि्वस्‍ट: महिला आयोग को मिले लड़कियों के फटे कपड़े


    एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, आरएसएस हमेशा से तिरंगे का विरोध करता रहा है. कांग्रेस के दबाव की वजह से अब उसने तिरंगा थामा है.

    दिग्विजय ने मदरसों के बहाने आरएएसएस पर भी निशाना साधा.कांग्रेस महासचिव ने कहा कि मदरसों में तिरंगे का कोई विरोध नहीं है. दिग्विजय ने कहा की नागपुर में कभी भी संघ कार्यालय पर तिरंगा नहीं फहराया.

    दिग्विजय सिंह ने कहा कि उन्होंने कभी केसरिया आतंकवाद की बात नहीं की है. उनके मुताबिक, केसरिया नहीं संघीय आतंकवाद है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज