लाइव टीवी

RSS कार्यकारिणी की बैठक : CAA का मुद्दा अपने पास रखेगा संघ!
Indore News in Hindi

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 7, 2020, 12:44 PM IST
RSS कार्यकारिणी की बैठक : CAA का मुद्दा अपने पास रखेगा संघ!
इंदौर में RSS कार्यकारिणी की बैठक का आज अंतिम दिन

पिछले दो दिन की बैठकों (meetings) में जितने मुद्दे चर्चा में आए हैं,उन पर संघ पदाधिकारी अपना रुख़ तय करेंगे. कहा ये जा रहा है कि संघ CAA का मुद्दा अपने पास ही रखेगा क्योंकि ये राष्ट्रवाद (Nationalism) से जुड़ा है.

  • Share this:
इंदौर.इंदौर (Indore) में चल रही राष्ट्रीय स्वयंसेवक (RSS) संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी की बैठक का आज अंतिम दिन है. आज संघ के साल भर के आयोजनों पर मुहर लगेगी और कैलेंडर (Calendar) भी जारी होगा.पिछले दो दिन की बैठकों (meetings) में जितने मुद्दे चर्चा में आए हैं,उन पर संघ पदाधिकारी अपना रुख़ तय करेंगे. कहा ये जा रहा है कि संघ CAA का मुद्दा अपने पास ही रखेगा क्योंकि ये राष्ट्रवाद (Nationalism) से जुड़ा है.

इंदौर में चल रही राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी की बैठक का आज अंतिम दिन है. आज संघ अपनी आगामी एक साल की कार्ययोजना को मंजूरी देगा. संघ प्रमुख मोहन भागवत और सरकार्यवाह भैय्याजी जोशी दो दिन तक बैठक में हुई चर्चा के बिंदुओं को अंतिम रtप देंगे. इसमें दिल्ली और बिहार में होने वाले चुनाव को लेकर संघ ने अपनी रणनीति तैयार कर ली है जिसे वो अब बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सहित पदाधिकारियों के सामने रखेगा.

राम मंदिर, CAA और धारा 370
बैठक में राम मंदिर,नागरिकता संशोधन कानून और धारा 370 जैसे अहम मुद्दों को घर घर तक पहुंचाने पर भी सहमति बन गई है. कहा जा रहा है कि सीएए को लेकर संघ अब पूरी रणनीति और कार्ययोजना अपने हाथ में रखेगा. वो इसे राष्ट्रवाद से जुड़ा मानकर देश के बड़े तबके को एकजुट करना चाहता है. यही वजह है कि बीजेपी और केंद्र सरकार सीएए पर जागरूकता को लेकर जो काम कर रहे हैं,वो चलते रहेंगे. संघ भी अपने स्तर पर स्वयंसेवकों के जरिए लोगों तक बात पहुंचाएगा.



संघ की शाखाएं बढ़ाने पर ज़ोर
संघ प्रमुख मोहन भागवत और सरकार्यवाह भैय्याजी समेत आरएसएस के प्रमुख पदाधिकारी देशभर के अलग-अलग राज्यों से आए प्रतिनिधियों से वन-टू-वन चर्चा कर चुके हैं. इसमें हर प्रांत के लिए अलग रणनीति तय गई है. जिसमें संघ का विस्तार, योजनाओं को गति देने, शिक्षा, सामाजिक योजनाओं, गौरक्षा, आदिवासी उत्थान जैसे मुद्दों पर काम करने के निर्देश दिए गए.

JNU हिंसा पर चिंता
बैठक में दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हुई हिंसा के मुद्दे पर भी गहन चिंतन किया गया. संघ पदाधिकारियों ने घटना में बीजेपी के छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की भूमिका और उनके पक्ष को जाना. इसके लिए दिल्ली से एबीवीपी के राष्ट्रीय संगठन मंत्री सुनील आंबेकर और सह संगठन मंत्री रघुनंदन को बुलाया गया था. बैठक में बीजेपी की ओर से राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष शामिल हैं. संघ प्रमुख भागवत और भैय्याजी जोशी ने कुछ विषयों पर बीएल संतोष से अलग से भी चर्चा की है. इस दौरान राम मंदिर, सीएए और धारा 370 जैसे अहम मुद्दों पर सरकार के फैसलों की प्रशंसा की गई और कुछ सुझाव भी दिए गए.

कैलेंडर और रोडमैप
आज की बैठक में संघ प्रमुख भागवत और सरकार्यवाह भैय्याजी जोशी के अलावा कृष्णन गोपालन, सुरेश सोनी, दत्तात्रय होसबोले शामिल होंगे. इसमें संघ का साल भर का रोड मैप जारी होगा. जिसमें संघ की शाखाओं को बढ़ाने पर बल दिया जाएगा साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में संघ की गतिविधियां बढ़ाईं जाएंगी.

बुधवार तक रुकेंगे संघ प्रमुख
मंगलवार को संघ की बैठक का आखिरी दिन है. लेकिन संघ प्रमुख मोहन भागवत के लिए होटल में बुधवार तक रूम बुक है. ऐसी संभावना है कि बैठक के बाद संघ प्रमुख इंदौर में रुकें. इस दौरान बीजेपी के बडे़ नेता भी उनसे मिलने इंदौर आ सकते हैं. छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम रमन सिंह के भी संघ प्रमुख मोहन भागवत से मिलने आने की चर्चा है.

इंदौर रैली के लिए संघ दिया 2 लाख का टारगेट
नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में बीजेपी पूरे देश भर में रैलियां कर रही है. इंदौर में भी 12 जनवरी को विवेकानंद जयंती के दिन एक बड़ी रैली होने वाली है. इसमें संघ ने बीजेपी को 2 लाख से ज्यादा लोगों को जुटाने का टारगेट दिया है. ये रैली चिमनबाग मैदान से राजबाड़ा तक आयोजित की गई है. बीजेपी ने इस रैली को तिरंगा यात्रा का नाम दिया है जिसमें सभी लोग तिरंगा लेकर चलेंगे.

ये भी पढ़ें-जहां कभी बदबू आती थी वहां नगरीय विकास मंत्री जयवर्धन सिंह ने लीं चाय की चुस्की

भारत-श्रीलंका के बीच दूसरा T-20 मैच इंदौर में आज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 7, 2020, 12:44 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर