Viral Video: देखिए कैसे लात मार रहे हैं तहसीलदार साहब, बैंड बजाकर निकाला लोगों को जुलूस

इंदौर के पास देपालपुर में तहसीलदार ने कोरोना कर्फ्यू तोड़ने वालों को लातें मारी.

इंदौर के पास देपालपुर में तहसीलदार ने कोरोना कर्फ्यू तोड़ने वालों को लातें मारी.

Viral Video: इंदौर के पास है देपालपुर विधानसभा. यहां के तहसीलदार बहादुर ने कोरोना कर्फ्यू तोड़ने वालों के साथ जबरदस्त बद्तमीजी कर दी. बहादुर ने लोगों को मेंढक बनाकर चलवाया. उन्हें लातें मारीं.

  • Share this:
इंदौर. कोरोना काल में प्रशासनिक अधिकारियों का विवादों से गहरा नाता बनता जा रहा है. पहले बुजुर्ग भिखारियों के साथ बद्तमीजी और अब आम लोगों के साथ विवादित व्यवहार. ताजा मामला इंदौर के पास देपालपुर का है. यहां के तहसीलदार बजरंग बहादुर का वीडियो वायरल हो गया है. वीडियो में बहादुर लोगों को लात मारते दिख रहे हैं. उन्होंने लोगों को कुछ दूर मेंढक स्टाइल में चलने को भी कहा. मामला सामने आने पर कांग्रेस ने तहसीलदार बजरंग बहादुर का मुंह काला करने की बात कही है.

वीडियो में दिखाई दे रहा है कि तहसीलदार बजरंग बहादुर चमन चौराहा पर ड्यूटी कर रहे हैं. इस बीच कुछ लोग कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन करते हैं. बहादुर उन्हें रोकते हैं और मेंढक कूद करके आधा किलोमीटर चलने के लिए कहते हैं. इस दौरान सभी का जुलूस निकाला जाता है और बाकायदा बैंड-बाजा बज रहा है. इस बीच तहसीलदार लोगों को लात भी मारते हैं. जो भी खड़ा होता है वह उसे दौड़-दौड़ कर लात मारते हैं.

Youtube Video


कांग्रेस ने कहा- मुंह काला करेंगे
ये वीडियो सामने आने के बाद कांग्रेस भड़क गई है. विधायक विशाल पटेल ने इसकी निंदा की है. सोशल मीडिया पर एक मैसेज भी वायरल किया गया है, जिसमें लिखा है कि तहसीलदार बजरंग बहादुर के खिलाफ यदि कार्रवाई नहीं होती है, तो कांग्रेस कार्यकर्ता तहसीलदार का मुंह काला करेंगे.

देवास का भी वीडियो हो रहा वायरल

मध्य प्रदेश के देवास जिले में अजीबो-गरीब वीडियो वायरल हो रहा है. यहां एक दूल्हे को घोड़ी नहीं मिली, तो वो गधे पर ही बैठ गया. वायरल हो रहे वीडियो में दिखाई दे रहा है कि दूल्हा गधे पर मजे से बैठा है और रिश्तेदार नाच रहे हैं. इस बीच एक महिला रुपए न्यौछावर करती भी दिखाई दे रही है.



दरअसल, ये मामला देवास जिले की बागली तहसील के करोंदिया गांव का है. देवास से इसकी दूरी करीब 80 किमी है. इसलिए इस वीडियो की तारीख की पुष्टि नहीं हो पा रही. जैसे ही ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो तरह-तरह कमेंट्स आने लगे. कुछ ने लिखा- घोड़ी नहीं मिली तो गधे पर बैठ कर ही अपना काम चला लिया. हालांकि, गांव से ऐसी जानकारी भी आई है कि जब दूल्हा दुल्हन को लेने आता है तो गधे पर बैठकर आता है. गांव में यह परंपरा कई सालों से चली आ रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज