लाइव टीवी

MP: सत्र में गूंजेगा अतिथि विद्वानों का मुद्दा, धरने पर पहुंचे विधायकों ने किया वादा
Bhopal News in Hindi

Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: December 17, 2019, 9:48 PM IST
MP: सत्र में गूंजेगा अतिथि विद्वानों का मुद्दा, धरने पर पहुंचे विधायकों ने किया वादा
अतिथि विद्वानों के धरने पर पहुंची बसपा विधायक रामबाई

शीतकालीन सत्र (Winter Session) शुरू होते ही अतिथि विद्वानों पर सियासत गरमा गई है. मंगलवार को धरने के 8वें दिन बीजेपी के कुछ एमएलए और बसपा विधायक रामबाई अतिथि विद्वानों से मिलने पहुंचे. इस बीच अब तक 1300 से ज्यादा अतिथि विद्वानों को बाहर का रास्ता दिखाया जा चुका है. अतिथि विद्वान भी च्वाइस फिलिंग के आदेश की प्रतियां जला रहे हैं.

  • Share this:
भोपाल. अतिथि विद्वानों के मामले को विधानसभा के सत्र में उठाने को लेकर होड़ सी मच गई है. भाजपा के तमाम विधायक अतिथि विद्वानों के बीच डेरा डाले हुए हैं. नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव (Gopal Bhargav) और पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj singh Chouhan) के बाद आज 4-5 भाजपा विधायक अतिथि विद्वानों के बीच पहुंचे. भाजपा के मउगंज विधायक प्रदीप पटेल, चुरहट विधायक शरदेंदु तिवारी, कोलारस विधायक वीरेंद्र रघुवंशी, सिवनी विधायक दिनेश राय अतिथि विद्वानों के बीच पहुंचे और उनके दुख दर्द में साथ खड़े होने की बात कही. भाजपा विधायकों ने कहा कि अब विधानसभा में ध्यानकर्षण में तो मुद्दा उठाएंगे ही, साथ ही अगर जल्द से जल्द नियमित नहीं किया तो अब भाजपा विधायक अतिथि विद्वानों के साथ सड़क पर आंदोलन भी करेंगे.

'सीएम तक नहीं पहुंच पा रही सही बात'
भाजपा विधायकों के बाद बसपा विधायक रामबाई भी अतिथि विद्वानों के बीच पहुंची. बसपा विधायक रामबाई ने कहा कि इस मामले पर पिछली सरकार ने भी गलत किया है और वर्तमान सरकार भी गलत कर रही है. उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार की गलती ये है कि वो इन लोगों को निकाल रही है. उन्होंने कहा कि सीएम ने कोई वादा नहीं तोड़ा है. दरअसल अतिथि विद्वानों की मांगें सीएम कमलनाथ तक पहुंच ही नहीं पा रही हैं. उन्होंने कहा कि अतिथि विद्वानों के साथ गलत हो रहा है. उन्होंने भी इस मामले को सदन में उठाने का वादा किया.

च्वाइस फिलिंग के आदेश की जलाई होली

अतिथि विद्वानों के धरने का आज 8वां दिन था. तेज सर्दी के बीच में अतिथि विद्वान शाहजहांनी पार्क में डेरा डाले हैं. कड़ाके की सर्दी के बीच में अतिथि विद्वान पार्क में ही रात बिताने को मजबूर हैं. पूरे प्रदेश में अब तक करीब 1300 से ज्यादा अतिथि विद्वानों को बाहर का रास्ता दिखाया जा चुका है. साथ ही उच्च शिक्षा विभाग ने अतिथि विद्वानों के लिए च्वाइस फिलिंग की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है. अतिथि विद्वानों ने उच्च शिक्षा विभाग के च्वाइस फिलिंग के आदेश की प्रतियों की होली जलाकर सरकार के खिलाफ विरोध जताया.

ये भी पढ़ें -
‘ड्रीम गर्ल’ संजना की पहेली में उलझा जोधपुर का युवक, लड़की की आवाज में ठगे 50 लाख रुपएकिसानों की जिंदगी बदल सकता है ये मोबाइल ऐप, ऐसे करेगा काम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 17, 2019, 9:44 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर