• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • भेड़ाघाट में चट्टानों पर सेल्फी ले रहे थे 2 भाई, अचानक पैर फिसला और बह गए दोनों भाई

भेड़ाघाट में चट्टानों पर सेल्फी ले रहे थे 2 भाई, अचानक पैर फिसला और बह गए दोनों भाई

गोताखोर दोनों युवकों की तलाश कर रहे हैं.

गोताखोर दोनों युवकों की तलाश कर रहे हैं.

Jabalpur News: भेड़ाघाट (Bhedaghat) में सेल्फी (Selfie) ले रहे दो भाई पानी के तेज बहाव में बह गए. 24 घंटे बाद भी दोनों युवकों का पता नहीं चल पाया है.

  • Share this:

जबलपुर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के जबलपुर (Jabalpur) में सेल्फी का शौक दो भाइयों के लिए जानलेवा साबित हुआ. दोनों युवक विश्व प्रसिद्ध भेड़ाघाट (Bhedaghat) में सेल्फी (Selfie) ले रहे थे. तभी अचानक पैर फिसला और पानी के तेज बहाव में दोनों बह गए. दोनों को पानी में गिरता देख आस-पास मौजूद लोग बचाने भागे, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी. पानी के तेज बहाव में दोनों समा गए. शनिवार को युवकों को रेस्क्यू करने के लिए गोताखोरों को बुलाया गया, लेकिन कोई सफलता हाथ नहीं लगी.

रविवार को भी युवकों की तलाश जारी रही. 24 घंटे बाद भी दोनों का पता नहीं चल पाया है. दोनों भाई भेड़ाघाट जलप्रपात घूमने आए थे. होमगॉर्ड और गोताखोरों की टीम अभी भी लापता युवकों की तलाश कर रही है.

24 घंटे बाद भी कोई सुराग नहीं
दरअसल, 24 सितंबर को रांझी के रहने वाले शुभम टैगोर अपने भाई शिवांश टैगोर के साथ भेड़ाघाट घूमने आया था. शिवांश उत्तर प्रदेश के सहारनपुर का रहने वाला है और भेड़ाघाट की संगमरमरी वादियों को देखने के लिए वह बेहद उत्साहित था.  इस बीच पानी का तेज बहाव देखकर चट्टानों के बीच खड़े होना और सेल्फी लेने का उसका मंसूबा इस कदर उस पर और परिवार पर कहर बरपाएगा यह उसने नहीं सोचा था. पानी के तेज बहाव में डूबने से पहले उसकी आखिरी तस्वीर भी कैमरे में कैद हुई जिसमें साफ दिख रहा है कि किस तरीके से इन्होंने खुद मौत को आमद दी.

ये भी पढ़ें: REET Exam 2021: राजस्थान के इस शहर में 12 घंटे बंद रहेगा इंटरनेट, मिलेगी सिर्फ ये सुविधा

24 घंटे बीत जाने के बाद भी अभी दोनों भाइयों के शव बरामद नहीं हो पाए हैं. गोताखोर और होमगार्ड की टीम लगातार बहाव वाले तटीय क्षेत्रों में शवों की तलाश में जुटे हुए है. वही भेड़ाघाट नगर प्रशासन की सुरक्षा व्यवस्था पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं क्योंकि ना तो अब तक कोई सूचना पटल है और ना ही पर्यटकों को रोकने के लिए को सुरक्षा घेरा बनाया गया है. आए दिन लोग गहरे पानी में नहाते हुए सेल्फी लेते नजर आते हैं.  बेशक यह जिम्मेदारी खुद आम लोगों की है कि वह गहरे पानी से दूर रहें, लेकिन दूसरी ओर सरकारी महकमों को भी देखना चाहिए कि हर साल होने वाले हादसों से सबक लेते हुए एहतियातन इंतजाम किए जाएं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज