Home /News /madhya-pradesh /

MBBS में काउंसलिंग से पहले 27 फीसदी OBC आरक्षण को चुनौती : हाईकोर्ट ने जारी किए नोटिस

MBBS में काउंसलिंग से पहले 27 फीसदी OBC आरक्षण को चुनौती : हाईकोर्ट ने जारी किए नोटिस

jabalpur. MBBS के लिए काउंसलिंग से पहले 27 फीसदी ओबीसी आरक्षण को हाईकोर्ट में चुनौती दी गयी है.

jabalpur. MBBS के लिए काउंसलिंग से पहले 27 फीसदी ओबीसी आरक्षण को हाईकोर्ट में चुनौती दी गयी है.

OBC Reservation News : जबलपुर हाईकोर्ट में छात्र शुभम पांडे ने याचिका दायर की है. इसमें मध्य प्रदेश चिकित्सा शिक्षा प्रवेश नियम 2018 में संशोधन को चुनौती दी गयी है. याचिका में तर्क दिया गया है कि हाल ही में होने वाली काउंसलिंग में ओबीसी छात्रों को 27 फ़ीसदी आरक्षण का प्रावधान कर दिया गया है जो सुप्रीम कोर्ट के तमाम फैसलों और आदेश का उल्लंघन है.

अधिक पढ़ें ...

जबलपुर. मध्य प्रदेश में 27 फ़ीसदी ओबीसी आरक्षण (OBC Reservation) का मसला लगातार सरकार के गले की फांस बना हुआ है. एक बार फिर आज 27 प्रतिशत ओबीसी आरक्षण के खिलाफ लगी याचिका पर जबलपुर हाईकोर्ट ने सरकार को नोटिस जारी किए हैं.

अगले कुछ दिनों में MBBS सीटों के लिए काउंसलिंग होना है. याचिकाकर्ता ने काउंसलिंग प्रक्रिया को याचिका के जरिए चुनौती दी है. हाईकोर्ट ने इस पर प्राथमिक सुनवाई करते हुए सरकार को नोटिस जारी किए हैं.

सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला
यह याचिका एक छात्र शुभम पांडे की ओर से दायर की गई है. इसमें मध्य प्रदेश चिकित्सा शिक्षा प्रवेश नियम 2018 में किए गए संशोधन को चुनौती दी गयी है. याचिका में तर्क दिया गया है कि हाल ही में होने वाली काउंसलिंग में ओबीसी वर्ग के छात्रों को 27 फ़ीसदी आरक्षण दिए जाने का प्रावधान कर दिया गया है जो सुप्रीम कोर्ट के तमाम फैसलों और आदेश का उल्लंघन है.

50 फीसदी से ज्यादा न हो आरक्षण
इस याचिका में इंदिरा साहनी मामले का हवाला देते हुए कहा गया है कि किसी भी सूरत में आरक्षण का प्रतिशत 50 फ़ीसदी से अधिक नहीं हो सकता. और हाल ही में आए मराठा रिजर्वेशन के फैसला भी कुछ इसी ओर इशारा करता है. हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस की बेंच ने मध्य प्रदेश सरकार और संचालक चिकित्सा शिक्षा को नोटिस जारी किया है और इस याचिका को भी ओबीसी संबंधी अन्य याचिकाओं के साथ लिंक कर दिया है.

Tags: MP 27 percent OBC Reservation Case, OBC Politics, OBC Reservation, OBC आरक्षण

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर