Home /News /madhya-pradesh /

जबलपुर में धर्म परिवर्तन की आशंका में चर्च परिसर पर हमला, छह गिरफ्तार

जबलपुर में धर्म परिवर्तन की आशंका में चर्च परिसर पर हमला, छह गिरफ्तार

मुंबई के बाद अब जबलपुर के कैंट थाना क्षेत्र में मौजूद चर्च परिसर में तोड़फोड़ की घटना सामने आई है। हमलावारों ने चर्च के पास मौजूद मकानों के दरवाजे और कारों में गमले फेंककर जमकर तोडफोड़ की। इस मामले में पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार किया है। यह सभी धर्मसेना के कार्यकर्ता बताए जा रहे है।

मुंबई के बाद अब जबलपुर के कैंट थाना क्षेत्र में मौजूद चर्च परिसर में तोड़फोड़ की घटना सामने आई है। हमलावारों ने चर्च के पास मौजूद मकानों के दरवाजे और कारों में गमले फेंककर जमकर तोडफोड़ की। इस मामले में पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार किया है। यह सभी धर्मसेना के कार्यकर्ता बताए जा रहे है।

मुंबई के बाद अब जबलपुर के कैंट थाना क्षेत्र में मौजूद चर्च परिसर में तोड़फोड़ की घटना सामने आई है। हमलावारों ने चर्च के पास मौजूद मकानों के दरवाजे और कारों में गमले फेंककर जमकर तोडफोड़ की। इस मामले में पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार किया है। यह सभी धर्मसेना के कार्यकर्ता बताए जा रहे है।

अधिक पढ़ें ...
  • Network18
  • Last Updated :
    मुंबई के बाद अब जबलपुर के कैंट थाना क्षेत्र में मौजूद चर्च परिसर में तोड़फोड़ की घटना सामने आई है। हमलावारों ने चर्च के पास मौजूद मकानों के दरवाजे और कारों में गमले फेंककर जमकर तोडफोड़ की। इस मामले में पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार किया है। यह सभी धर्मसेना के कार्यकर्ता बताए जा रहे है।

    बताया जा रहा है कि चर्च परिसर में एक धर्मसभा का आयोजन किया गया था। इस धर्मसभा में मंडला जिले से कई लोग हिस्सा लेने आए थे। धर्म सेना के कई कार्यकर्ताओं ने यहां ठहरे लोगों पर हमला बोल दिया और वाहनों तथा कमरों में तोडफ़ोड़ की थी। आरोप लगाया गया था कि यहां धर्मसभा की आड़ में धर्म परिवर्तन किया जा रहा था।

    चर्च परिसर में मौजूद लोगों ने शुरूआत में धर्मसेना के कार्यकर्ताओं का विरोध किया था। कार्यकर्ताओं के उग्र तेवर देख वह पीछे हट गए और कमरों में जाकर छुप गए थे। मामले की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने बलप्रयोग कर भीड़ को तितर बितर किया था।

    देश में हाल ही में चर्च पर हमले की घटना बढ़ी है। कुछ दिन पूर्व नवी मुंबई में भी चर्च पर हमला हुआ था। दिल्ली और हिसार में भी इसी तरह हमले और तोड़फोड़ की घटनाएं हो चुकी है।

    आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर