Assembly Banner 2021

रानी दुर्गावती ने इतिहास रचा, आदिवासियों के विकास के बिना देश का विकास संभव नहीं : राष्ट्रपति

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सिंगौरगढ़ किले पहुंचे और सांस्कृतिक कार्यक्रम में हिस्सा लिया. (FB)

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सिंगौरगढ़ किले पहुंचे और सांस्कृतिक कार्यक्रम में हिस्सा लिया. (FB)

राष्ट्रपति रामनाथ कोविद रविवार को दमोह के सिंग्रामपुर गांव पहुंचे. यहां उन्होंने सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आनंद लिया और बच्चियों का सम्मान किया. इस मौके पर उनके साथ राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और सीएम शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद थे.

  • Share this:
जबलपुर. राष्ट्रपति रामनाथ कोविद रविवार को दमोह जिले के सिंग्रामपुर गांव पहुंचे. यहां उन्होंने जनजातीय कार्यक्रम का आनंद लिया और 26 करोड़ के विकासकार्यों का भूमिपूजन किया. उनके साथ मंच पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल, केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते भी मौजूद थे. कार्यक्रम की शुरुआत राष्ट्रगान से हुई. राष्ट्रपति का स्वागत मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किया.

इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा- आज मुझे बेहद खुशी है कि दुर्गावती की भूमि पर पौधरोपण का अवसर मिला. रानी दुर्गावती ने अपने प्राणों की आहुति देकर इतिहास रचा है. उन्होंने कहा कि प्रतिभा किसी जाति क्षेत्र की मोहताज नहीं होती. देश में जनजाति की सबसे बड़ी आबादी मध्यप्रदेश में है. आदिवासी समुदाय के विकास से पूरे देश का विकास जुड़ा हुआ है. जब तक देश सभी पिछड़े लोगों का विकास नहीं होता तब तक देश का विकास संभव नहीं. जनजातियों में ज्ञान का, परंपरा का अपार भंडार है.

मेरिट में आने वाली बच्चियों का किया सम्मान



इससे पहले सभी अतिथियों का स्वागत हुआ. उसके बाद सिंगौरगढ़ किले के शौर्य पर बनी डॉक्यूमेंट्री दिखाई गई. इसमें किले के ऐतिहासिक और सामरिक महत्व को बताया गया. इसके बाद स्कूल के बच्चों ने रानी दुर्गावती की वीरता पर गायन पेश किया. इसके बाद कलाकारों ने शास्त्रीय गायन पेश किया. इसके बाद राष्ट्रपति ने 26 करोड़ की योजनाओं का अनावरण किया. उन्होंने आदिरंग पोर्टल की भी ओपनिंग की. वही, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने मेरिट लिस्ट में आने वाली बच्चियों को सम्मानित किया.  इस मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक पुस्तिका का विमोचन किया.
दोपहर में दिल्ली प्रस्थान करेंगे राष्ट्रपति

जानकारी के मुताबिक, विकास कार्यों का शिलान्यास करने के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद दोपहर 3.30 बजे दिल्ली प्रस्थान करेंगे. जबकि सीएम शिवराज सिंगौरगढ़ से भोपाल लौट आएंगे. वहीं, राज्यपाल राष्ट्रपति को विदा करने के बाद दोपहर 3.45 उत्तरप्रदेश के राजकीय विमान द्वारा लखनऊ प्रस्थान करेंगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज