भाजपा MLA ने अवैध रेत खनन को लेकर CM कमलनाथ को लिखा पत्र, दी ये नसीहत

Prateek Mohan Awasthi | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 12, 2019, 5:54 PM IST
भाजपा MLA ने अवैध रेत खनन को लेकर CM कमलनाथ को लिखा पत्र, दी ये नसीहत
भाजपा विधायक अजय विश्नोई ने कमलनाथ को लिखा पत्र.

भाजपा विधायक अजय विश्नोई (BJP MLA Ajay Vishnoi) ने सूबे के मुख्‍यमंत्री कमलनाथ (Chief Minister Kamal Nath) को अवैध रेत खान को लेकर पत्र लिखा है.

  • Share this:
जबलपुर. मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) में अवैध रेत खनन (Sand Mining) सबसे बड़ी समस्या है. इससे कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) भी परेशान है तो पूर्व मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी जूझते रहे थे. इसी को लेकर पूर्व मंत्री और भाजपा विधायक अजय विश्नोई (BJP MLA Ajay Vishnoi) ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को पत्र लिखा है. उन्‍होंने अपनी सरकार के दौरान शिवराज सिंह को भी लिखा था. उन्‍होंने कहा कि रेत के अवैध खनन, भंडारण या फिर बिक्री पर रोक लगाने में कोई भी सरकार मुकम्मल सफल नहीं हो पाई है. इसका अगर कोई इलाज है तो वह सिर्फ रेत की दरों को सस्ता करना है. हालांकि पूर्व मंत्री ने आरोप लगाया है कि वर्तमान सरकार के लोग खुद इस काम में लिप्त हैं.

विश्नोई का रेत के अवैध व्यापार पर नया फॉर्मूला
रेत के अवैध खनन के मामले में घुटने टेक चुकी सत्तारूढ़ कांग्रेस सरकार को अब राय और मशवरे मिलने का दौर शुरू हो गया है. भाजपा के कददावर नेता और विधायक अजय विश्नोई ने रेत के अवैध व्यापार से निजात दिलाने के लिए कमलनाथ सरकार को नए फॉर्मूले पर काम करने की नसीहत दी है. विश्नोई के मुताबिक सरकार अगर रेत के दाम गिरा दे और इतनी सस्ती कर दे कि इसकी उपलब्धता सहज हो तो रेत खनन के साथ अवैध शब्द हट सकता है.

न्यूज़ 18 से खास बातचीत करते हुए विधायक विश्नोई ने कहा कि सराकर अवैध खनन को रोकने में नाकामयाब रही है. अवैध रेत खनन के मामले में सरकार के मंत्रियों ने खुलआम इस बात को कबूला था. प्रदेश के उर्जा और जबलपुर के प्रभारी मंत्री प्रियवत सिंह ने कहा था कि अवैध रेत खनन सरकार के लिए नासूर बन गया है.

अपनी सरकार को भी लिखा पत्र
गौरतलब है कि पूर्व मंत्री विश्नोई ने एक ऐसा ही पत्र अपनी सरकार के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को भी लिखा था. उस पत्र में भी उन्होंने रेत को सस्ता करने की बात कही थी. विधायक की बात पर अगर गौर किया जाए तो इससे सरकार को राजस्व की हानि तो होगी लेकिन एक भ्रष्ट और अराजक हो चुकी व्यवस्था पर विराम लगाने में मदद मिल सकती है. अगर न भी हो तो भी रेत के अनाप शनाप हो रहे दामों पर काफी हद तक रोक लग सकती है.

ये भी पढ़ें-नये मोटर व्हीकल एक्ट पर CM कमलनाथ का ट्वीट-केंद्र जुर्माने पर फिर करे विचार
Loading...

MP: बारिश से परेशान लोगों ने करा दिया मेंढक-मेंढकी का तलाक

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जबलपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 12, 2019, 3:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...