अपना शहर चुनें

States

कमलनाथ के मंत्री ने दिग्‍विजय सिंह के भाई को दी नसीहत, बोले-उनके बाल गायब हो गए लेकिन...

घनघोरिया ने लक्ष्‍मण सिंह को हरिशंकर परसाई के शब्दों में दिया जवाब.
घनघोरिया ने लक्ष्‍मण सिंह को हरिशंकर परसाई के शब्दों में दिया जवाब.

मध्‍य प्रदेश के कैबिनेट मंत्री लखन घनघोरिया (Lakhan Ghanghoria) ने पूर्व मुख्‍यमंत्री दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) के भाई और विधायक लक्ष्मण सिंह (Laxman Singh) पर कमलनाथ सरकार को नसीहत देने पर पलटवार किया है.

  • Share this:
जबलपुर. कमलनाथ सरकार के कैबिनेट मंत्री लखन घनघोरिया (Cabinet Minister Lakhan Ghanghoria) ने कहा है कि हरिशंकर परसाई का एक लेख है जिसमें कहा गया है कि जिनके कान के बाल सफेद हो जाएं उन्हें उपदेश देना चाहिए और जिनके कान के बाल काले हों उन्हें उपदेश सुनना चाहिए. अब कांग्रेस के विधायक लक्ष्मण सिंह ( Laxman Singh) के बाल सफेद या गायब हो गए इसका उन्हें पता नहीं है. कांग्रेस विधायक और पूर्व मुख्‍यमंत्री दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) के भाई लक्ष्मण सिंह द्वारा मुख्यमंत्री कमलनाथ (Chief Minister Kamal Nath) को दी गई नसीहत सियासी चश्मे से बड़बोलेपन के तौर पर देखी जा रही है. जबकि लक्ष्‍मण सिंह के बयान का कांग्रेस के ही वरिष्ठ नेता विरोध कर रहे हैं.

सीएम को नसीहत देना बोले तो...
कैबिनेट मंत्री लखन घनघोरिया ने लक्ष्मण सिंह के इस वक्तव्य पर हरिशंकर परसाई की भाषा में जवाब दिया है. मीडिया से बातचीत करते हुए मंत्री ने कहा की परसाई का एक लेख है जिसमें कहा गया है कि जिनके कान के बाल सफेद हो जाएं उन्हें उपदेश देना चाहिए और जिनके कान के बाल काले हो उन्हें उपदेश सुनना चाहिए. लक्ष्मण सिंह का मुख्यमंत्री कमलनाथ को नसीहत देना सूरज को दिया दिखाने जैसा है. गौरतलब है कि विधायक लक्ष्मण सिंह ने एक बयान में कहा था कि मुख्यमंत्री कमलनाथ को मजबूर नहीं बल्कि मज़बूत सीएम बनना चाहिए.

सामूहिक विवाह योजना को लेकर कही ये बात
सामाजिक न्याय मंत्री घनघोरिया ने सामूहिक विवाह योजना में गड़बड़ी पर भी बयान दिया. उन्‍होंने कहा कि प्रदेश में 10000 सामूहिक विवाह के ऐसे मामले आए हैं जिनमें गड़बड़ी पाई गई है. यह गड़बड़ी ऐसी है, जिसमें जोड़ों ने दो से तीन बार विवाह किया है. इस गड़बड़ी में कई अफसरों की मिलीभगत भी प्राथमिक तौर पर सामने आई है. इस पूरे मामले की जांच की जा रही है जिसके परिणाम आने पर दोषियों पर उचित कार्रवाई की जाएगी. सामूहिक विवाह में गड़बड़ी के चलते वित्त विभाग ने करोड़ों का आवंटन रोक दिया है, लेकिन मंत्री घनघोरिया ने स्पष्ट किया है कि 10 हजार संदिग्ध मामलों को छोड़ अन्य सामूहिक विवाह के प्रकरणों का भुगतान जारी रहेगा.



ये भी पढ़ें-PCC चीफ पद के इस दावेदार के नाम पर 1 रुपए में लिया जा रहा है गरीबों का राशन!

बाल दिवस पर CM कमलनाथ की शिक्षकों से अपील-समय पर स्कूल आएं, गंभीरता से पढ़ाएं
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज