जबलपुर में सामने आया बड़ा राशन घोटाला, जानें कैसे हो रही थी कालाबाजारी

मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले में बड़ा राशन घोटाला पकड़ा गया है. जांच के बाद 16 हजार फर्जी राशन कार्ड पाए गए हैं जिनसे राशन दुकानदार गलत ढंग से राशन निकालकर कालाबाजारी करते थे.

Prateek Mohan Awasthi | News18 Madhya Pradesh
Updated: May 29, 2019, 4:01 PM IST
Prateek Mohan Awasthi | News18 Madhya Pradesh
Updated: May 29, 2019, 4:01 PM IST
जबलपुर जिले मे बंटने वाले राशन के नाम पर बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया है. जांच के दौरान जिले के 16 हज़ार राशन कार्ड फर्जी पाए गए हैं. इन फर्जी राशन कार्ड से दुकान संचालक गलत ढंग से राशन निकाल रहे थे. जिला खाद्य आपूर्ति विभाग की ओर से जब इन राशन कार्डों की जांच समग्र पोर्टल से की गई तो चौंकाने वाले आंकड़े सामने आ गए.

16 हजार राशन कार्ड निकले फर्जी

जिला खाद्य आपूर्ति नियंत्रक सी एस जादौन ने न्यूज़ 18 से खास बातचीत में बताया कि ऐसे करीब 16 हज़ार राशन कार्डधारी परिवार हैं जिनके नाम पर राशन निकाला जा रहा था. ऐसे सभी परिवारों को पात्रता सूची से हटाने का काम शुरू किया गया है. इसके साथ ही पूरे मामले मे गंभीरता से जांच की जा रही है.

शहरी क्षेत्र में ही मिले हैं फर्जी राशन कार्ड

यहां यह ज्ञातव्य है कि जबलपुर जिले मे कुल 4 लाख 4 हज़ार परिवारों के राशन कार्ड बने हुए हैं, जिनमें शहरी क्षेत्र के कुल 1 लाख 68 हज़ार परिवार आते हैं. फर्जी राशन कार्डों की गड़बड़ी शहरी क्षेत्र में ही पाई गई है. जिले में प्रति माह 995 राशन दुकानों से 11 हजार मीट्रिक टन राशन वितरित किया जाता है.

ये भी पढ़ें -
रतलाम: राशन घोटाले में पुलिस ने बढ़ाया जांच का दायरा, रवींद्र ठक्कर गिरफ्तार

Loading...

VIDEO: राशन घोटाले में 40 कोटेदार समेत 74 के खिलाफ केस दर्ज
First published: May 29, 2019, 2:21 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...