मध्य प्रदेश में कांग्रेस की इस पहल से मरीजों को राहत, जबलपुर पहुंचाई 2 टैंकर ऑक्सीजन

कांग्रेस की ऑक्सीजन पॉलिटिक्स से मरीजों को राहत, जबलपुर पहुंची एक टैंकर ऑक्सीजन.

कांग्रेस की ऑक्सीजन पॉलिटिक्स से मरीजों को राहत, जबलपुर पहुंची एक टैंकर ऑक्सीजन.

कोरोनाकाल में ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे मरीजों के लिए यह राहत देेने वाली बात है. पहली बार सियासत की यह होड़ किसी की जिंदगी बचाने के काम आ रही है. कांग्रेस स्पॉन्सर्ड ऑक्सीजन जबलपुर पहुंची है. इससे हजारों सिलेंडर ऑक्सीजन की आपूर्ति हो सकेगी.

  • Share this:
जबलपुर. मध्यप्रदेश ( Madhya Pradesh ) में कोरोना संक्रमण के फैलाव के चलते हालात बिगड़े हुए हैं. इस दौरान ऑक्सीजन (Oxygen) हो या रेमडेसीविर इंजेक्शन चारों ओर हाहाकार मची हुई है. कांग्रेस के आला नेता इस मामले में रोजाना सरकार को घेरने ट्वीट पर ट्वीट कर रहे हैं, तो वहीं ऑक्सीजन बुलाने की होड़ भी नेताओं में देखने को मिल रही है. कोरोनाकाल में ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे मरीजों के लिए यह राहत देेने वाली बात है. पहली बार सियासत की यह होड़ किसी की जिंदगी बचाने के काम आ रही है. कांग्रेस स्पॉन्सर्ड ऑक्सीजन जबलपुर पहुंची है. इससे हजारों सिलेंडर ऑक्सीजन की आपूर्ति हो सकेगी.

सरकार इंतजाम चाहे जब करें लेकिन विपक्ष अपने संसाधनों और संपर्कों से ऑक्सीजन की आपूर्ति की तैयारियों में जुट गया है. हाल ही में जबलपुर में दो ऑक्सीजन लिक्विड के टैंकर आए हैं. जिनकी क्षमता 34 टन बताई जा रही है.  कांग्रेस स्पॉन्सर्ड दोनों ही ऑक्सीजन लिक्विड टैंकर कांग्रेस के पूर्व सांसद नवीन जिंदल और राज्यसभा सदस्य विवेक कृष्ण तनखा के प्रयासों से शहर में पहुंचे हैं.  शहर की सीमा पर पहुंचते ही इनका स्वागत पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस विधायक तरुण भनोट ने किया.  उन्होंने बताया कि दोनों ही ऑक्सीजन टैंकरों में कई हजार सिलेंडर ऑक्सीजन बनाने की क्षमता है. इनमें से एक टैंकर को मेडिकल कॉलेज तो वहीं दूसरे को आर्मी हॉस्पिटल को सौंपा जाएगा.

गौरतलब है कि शहर में भी मध्य प्रदेश के अन्य जिलों की तरह ही ऑक्सीजन की कमी देखने को मिल रही है. ऐसे में इन दोनों लिक्विड टैंकरों के शहर पहुंचने से काफी हद तक ऑक्सीजन की आपूर्ति कुछ दिनों के लिए हो सकेगी. वित्त मंत्री विधायक करण भनोट ने राउरकेला से पहुंचे इन टैंकरों को रिसीव किया. उन्होंने उम्मीद जताई है इस वजह से अब अब कोरोना मरीजों की जान की हिफाजत हो सकेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज