VIDEO : कांग्रेस सांसद बोले, व्यापम घोटाले में बीजेपी नेताओं को बचा रही है CBI

मध्यप्रदेश में कांग्रेस के सत्ता में आते ही कमलनाथ सरकार ने व्यापम को कलंक बताया था और कहा था कि उसे बंद कर उसकी जगह राज्य कर्मचारी चयन आयोग बनाया जाएगा.

Prateek Mohan Awasthi | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 24, 2019, 8:45 PM IST
Prateek Mohan Awasthi | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 24, 2019, 8:45 PM IST
आम चुनाव के बाद अगर केंद्र में कांग्रेस की सरकार आई तो व्यापम घोटाले की फाइल फिर से खुलेगी. कांग्रेस से राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने जबलपुर में यह बात कही. उन्होंने कहा, CBI अपनी विश्वसनीयता खो चुकी है. वह बीजेपी के किसी भी नेता पर कार्रवाई करने से बच रही है.

कांग्रेस नेता विवेक तन्खा ने कहा कि मध्य प्रदेश में व्यापम घोटाले की जांच कर रही CBI अपनी विश्वसनीयता खो बैठी है. वह इस मामले में आरोपी बीजेपी नेताओं के ख़िलाफ कार्रवाई करने की हिम्मत नहीं जुटा पा रही है. केन्द्र में बैठी भाजपा सरकार जो चाहती है सीबीआई वही करती है.

ये भी पढ़ें - बंद होगा व्यापम, कमलनाथ सरकार वचन पत्र का एक और वादा निभाएगी

तन्खा ने व्यापम घोटाले की कार्यशैली पर असंतोष जताया. उन्होंने बड़ा बयान दिया और कहा कि जैसे ही केन्द्र में सरकार बदलेगी वैसे ही व्यापम घोटाले की नए सिरे से जांच कराई जाएगी, जिसने हज़ारों युवाओं के करियर को बर्बाद कर दिया. इस केस की फाइल री-ओपन की जाएगी.

ये भी पढ़ें - परिवहन आरक्षक भर्ती घोटाला: पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा को CBI की क्लीन चिट

विवेक तन्खा ने कहा कि इतने बड़े घोटाले की फिर से जांच कराने के लिए साक्ष्य की ज़रूरत पड़ेगी. ये साक्ष्य CBI को जुटाने हैं. ऐसे में हमें इंतजार है केन्द्र में सरकार बदलने का. मध्यप्रदेश में कांग्रेस के सत्ता में आते ही कमलनाथ सरकार ने व्यापम को कलंक बताया था और कहा था कि व्यापम को बंद कर उसकी जगह राज्य कर्मचारी चयन आयोग बनाया जाएगा.
First published: January 24, 2019, 6:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...