MP के सियासी हालात पर बोले सांसद विवेक तन्खा- कांग्रेस को फुल टाइम प्रदेश अध्यक्ष चाहिए

कांग्रेस सांसद विवेक तन्खा ने हॉर्स ट्रेडिंग पर कानूनी कार्रवाई की मांग की है
कांग्रेस सांसद विवेक तन्खा ने हॉर्स ट्रेडिंग पर कानूनी कार्रवाई की मांग की है

हॉर्स ट्रेडिंग के मिडनाइट ड्रामे को लेकर कांग्रेस के राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा (Vivek Tankha) का बयान आया है. उन्होंने कहा है कि कांग्रेस की जड़ें मध्य प्रदेश में मजबूत हैं, लेकिन अब समय आ गया है कि विधायकों के असंतोष को दूर किया जाए.

  • Share this:
जबलपुर. कांग्रेस विधायकों (Congress MLA) के गुरुग्राम जाने और उन्हें कब्जे में रखने की खबरों के बीच सांसद विवेक तन्खा ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि पार्टी को 'मिशन लोटस' की पहले से ही जानकारी थी. उन्होंने कहा कि खरीद-फरोख्त (Horse trading) करने वाला बीजेपी का असली चेहरा आम लोगों के सामने आया है. जहां तक सवाल कांग्रेस विधायकों के भाजपा में जाने का है, तो उसकी मूल वजह असंतोष है, जिस पर पार्टी को कदम उठाने चाहिए.

पार्टी को अलग पीसीसी अध्यक्ष की जरूरत
राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने कांग्रेस विधायकों के टूटने और भाजपा की ओर झुकाव के पीछे एक और बड़ी वजह प्रदेश अध्यक्ष पद को भी माना. उन्होंने कहा कि अगर प्रदेश में अलग पीसीसी अध्यक्ष होता तो शायद ऐसे हालात नहीं बनते. तन्खा के मुताबिक वर्तमान में पार्टी को ऐसे व्यक्ति की जरूरत है, जो लगातार पीसीसी दफ्तर में बैठे और कार्यकर्ताओं को सुनकर उनके असंतोष को खत्म करे.

हॉर्स ट्रेडिंग पर कानूनी कार्रवाई की मांग
वहीं हॉर्स ट्रेडिंग को लेकर व्हिसल ब्लोअर आनंद राय द्वारा जारी किए गए खरीद-फरोख्त के वीडियो पर सांसद विवेक तन्खा ने एफआईआर की मांग की है. उनका कहना था कि भाजपा के शासन में भी हॉर्स ट्रेडिंग जैसे मामले सामने आते थे तो उनपर कानूनी कार्रवाई की जाती थी. सरकार को चाहिए कि वह इस मामले मे एफआईआर दर्ज कराए. इस दौरान सांसद विवेक तन्खा ने इस बात के भी संकेत दिए कि 'मिशन लोटस' के इस पूरे घटनाक्रम को लेकर एआईसीसी कोई बड़ा कदम उठा सकती है.



ये भी पढ़ें -
MP का सियासी ड्रामा: कमलनाथ के मंत्री का दावा- हमारे संपर्क में हैं BJP के 12 विधायक
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज