लाइव टीवी
Elec-widget

ई-वॉलेट बनवाकर ऐसे की करोड़ों की ठगी, झारखंड से पुलिस के हत्थे चढ़ा आरोपी

Prateek Mohan Awasthi | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 30, 2019, 7:19 PM IST
ई-वॉलेट बनवाकर ऐसे की करोड़ों की ठगी, झारखंड से पुलिस के हत्थे चढ़ा आरोपी
जबलपुर पुलिस के हत्थे चढ़ा शातिर साइबर अपराधी

24 साल के एक मास्टर माइंड ने ई-वॉलेट (E-Vallet) के ज़रिये प्रदेश की सबसे बड़ी और अनोखी साइबर ठगी को अंजाम दिया है. आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है और उससे पूछताछ की जा रही है.

  • Share this:
जबलपुर. ई वॉलेट (E- Wallet) में अपने पैसे रखने के बाद जो यूजर ये सोच रहे हैं कि उनका पैसा सुरक्षित है तो उन्हें सावधान होने की ज़रूरत है. ये खबर ऐसे लोगों के होश उड़ा सकती है जो ई वॉलेट में अपने पैसे रखते हैं. जबलपुर साइबर सेल (Cyber Cell Jabalpur) पुलिस के हत्थे चढ़े एक शातिर ठग ने ऐसा खुसाला किया है जिसने पूरे विभाग को हैरान कर दिया है. साइबर सेल ने प्रदेश की अब तक की सबसे अनोखी हाईटेक ठगी (Hightech Fraud) के मामले का खुलासा किया है, जिसमे ई वॉलेट का इस्तेमाल किया गया है.

मनी वॉलेट बनाकर दिया ठगी को अंजाम 
जबलपुर में पुलिस की स्टेट साइबर सेल ने एमटू-मनी (M2Money) नाम के ई-वॉलेट के जरिए हुई करोड़ों रुपयों की ठगी का खुलासा किया है. साइबर सेल ने उमरिया जिले के पाली में रहने वाले महज 24 साल के एक युवक सौरभ चौबे को गिरफ्तार किया है, जो करोड़ों की इस ठगी का मास्टर माइंड था. आरोपी ने इंदौर के एक डेवलपर के जरिए एमटू-मनी नाम का एक ई-वॉलेट बनवाया था. आरोपी ने अपने ई-वॉलेट एप को ज्यादा से ज्यादा सब्सक्राइब करने के लिए सोशल मीडिया पर जमकर विज्ञापन किया था, जिससे एमटू-मनी से 5 हजार से ज्यादा यूजर्स जुड़ गए थे.

कैश बैक का लालच देकर करोड़ों की ठगी

शुरुआत में तो आरोपी ने अपने ई-वॉलेट में बैंकों से पैसे डालने पर कैशबैक जैसे कई ऑफर दिए लेकिन जब यूजर्स द्वारा ई-वॉलेट में डाली जाने वाली राशि करोड़ों में पहुंच गई तो उसने उनका एक्सेस रोक दिया. ऐसे में यूजर्स एमटू-मनी वॉलेट से अपने पैसे नहीं निकाल पाए. जिन्हें आरोपी ने अपने खाते में ट्रांसफर कर लिया.

झारखंड के रांची में काट रहा था फरारी
पूरे मामले का खुलासा तब हुआ जब उमरिया के ही अनिल सिंह ने एमटू-मनी ई-वॉलेट द्वारा अपने 6 लाख रुपए ठग लिए जाने की शिकायत दर्ज करवाई. स्टेट साइबर सेल ने ई-वॉलेट के एडमिन और मालिक सौरभ चौबे को उसकी सोशल मीडिया प्रोफाइल के जरिए फॉलो किया और उसे झारखण्ड की राजधानी रांची से धर दबोचा. आरोपी को गिरफ्तार कर चुकी साइबर सेल उससे पूछताछ कर रही है ताकि उसके सहयोगियों पर भी कार्रवाई की जा सके. साइबर सेल को फिलहाल 80 लाख रुपयों की ठगी के सुबूत मिले हैं, लेकिन उसे भरोसा है कि जांच पूरी होने पर ठगी की राशि करोड़ों में जा सकती है.
Loading...

ये भी पढ़ें -
BHOPAL HACKATHON 2.0: आपकी दुनिया को और स्मार्ट बना देंगे यहां के स्टार्टअप

कांग्रेस MLA की धमकी के जवाब में बोलीं प्रज्ञा ठाकुर- आ रही हूं, जला देना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जबलपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 30, 2019, 6:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...