Jabalpur News: दिशा रवि के समर्थन में उतरी कांग्रेस, सुप्रीम कोर्ट में अपील की तैयारी, पढ़ें पूरा मामला

दिशा रवि मामले को लेकर कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट जा सकती है.

Disha Ravi Greta Thunberg Toolkit Case: क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि (Disha Ravi) का समर्थन करते हुए राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ((Vivek Tankha)) ने कहा कि बच्चों पर देशद्रोह का केस करना सही नहीं. जबकि पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भी दिशा रवि का समर्थन किया है. 

  • Share this:
जबलपुर. केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ देश में चल रहे किसान आंदोलन (Farmer Protest) पर ट्विटर पर टूलकिल को लेकर गिरफ्तार हुई क्लाइमेट एक्टिविस्ट (Climate Activist) दिशा रवि (Disha Ravi) के समर्थन में अब राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा भी उतर आए हैं. जबलपुर पहुंचे राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा (Vivek Tankha) का कहना है कि देश में अब लोकतंत्र या प्रजातंत्र नहीं बचा है, क्योंकि सरकार अब बच्चों पर भी देशद्रोह का मामला लगा रही है. महज 21-22 साल की लड़की को केवल इसलिए गिरफ्तार किया गया क्योंकि उसने ट्वीट किया था. तन्खा ने कहा देशद्रोह का कानून बच्चों पर लगाना उचित नहीं है, क्योंकि जो लोग स्वतंत्र विचारधारा के हैं उन पर बंदिशें नहीं लगाई जा सकतीं.

विवेक तन्खा का कहना है कि सोशल मीडिया के जरिए अपनी स्वतंत्र सोच को देश के सामने रखना देशद्रोह नहीं कहलाता है. तंखा ने कहा कि यह बेहद गंभीर मसला है और इस मामले को लेकर हम सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा भी खटखटाएंगे. सुप्रीम कोर्ट से मांग की जाएगी कि ट्विटर को लेकर नई व्यवस्था की जाए ताकि स्वतंत्र विचारधारा वाले लोग अपनी बात स्वतंत्र होकर रख सकें.

दिग्विजय सिंह भी उतरे समर्थन में  

ट्विटर टूलकिट मामले में पर्यावरणविद  दिशा रवि के समर्थन में मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भी उतर आए हैं. मामले में अपना बयान देते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि लिबरल डेमोक्रेसी के पक्षधर पूरे विश्व में है. यही वजह है कि अमूमन युवा सोशल मीडिया पर अपनी बात को रखते हैं. दिशा रवि जो कि पर्यावरण के लिए लगातार काम कर रही हैं, पर्यावरण में इकोलॉजिकल बैलेंस बनाने की दिशा में उनके द्वारा काफी काम किए. यहां तक कि वह खुद मांसाहारी से शाकाहारी हो गई उन पर देशद्रोह का आरोप लगाना सरासर गलत है. वही बेंगलुरु मध्य से बीजेपी सांसद पीसी मोहन द्वारा दिशा रवि की तुलना कसाब से किए जाने वाले बयान कि दिग्विजय सिंह ने निंदा की उन्होंने कहा कि बीजेपी सांसद का यह बयान बेहद निंदनीय है.

ये भी पढ़ें:  पंचायत चुनाव से पहले गहलोत सरकार ने ब्यूरोक्रेसी में किया बड़ा फेरबदल, IAS सहित 18 RAS का तबादला

आखिर गिरफ्तार क्यों की गईं दिशा?
दिशा पर आरोप है कि​ ट्विटर पर ग्रेटा थनबर्ग ने जो 'टूलकिट' शेयर की थी, दिशा ने उसे एडिट किया और सोशल मीडिया पर फॉरवर्ड किया. दिल्ली की एक कोर्ट में पुलिस ने कहा कि भारत की सरकार के खिलाफ एक बड़ी साज़िश में कथित खालिस्तानी मूवमेंट की भूमिका को लेकर दिशा से पूछताछ करना ज़रूरी है. दिशा का मोबाइल फोन ज़ब्त कर लेने की बात भी पुलिस ने कही. पुलिस के मुताबिक 'टूलकिट' केस में दिशा महत्वपूर्ण कड़ी हैं क्योंकि दिशा ने इसे एडिट करने और फॉरवर्ड करने की बात कबूल की है. खबरों के मुताबिक दिशा ने कोर्ट में रोते हुए कहा कि किसान आंदोलन को सपोर्ट करने के मकसद से उन्होंने टूलकिट में सिर्फ दो लाइनें बदली थीं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.