Home /News /madhya-pradesh /

edible oil hoarding black marketing raid on 3 merchants 1 lakh 72 thousand liters of goods seized mpsg

जबलपुर में कुकिंग ऑयल की जमाखोरी, 3 व्यापारियों ने छुपा रखा था पौने तीन करोड़ का तेल

Jabalpur News Today. व्यापारियों ने 30 मार्च से 30 अप्रैल तक जो माल खरीदा गया था उसकी भी जानकारी रिकॉर्ड में दर्ज नहीं की थी. सारी जानकारी छुपाई थी

Jabalpur News Today. व्यापारियों ने 30 मार्च से 30 अप्रैल तक जो माल खरीदा गया था उसकी भी जानकारी रिकॉर्ड में दर्ज नहीं की थी. सारी जानकारी छुपाई थी

Raid on Oil Traders. खाद्य विभाग की टीम को खाद्य तेल की जमाखोरी और कालाबाजारी की खबर मिल रही थी. टीम निकली और जिले के चंडालभाटा में थोक और फुटकर तेल व्यापारी हाजी मोहम्मद पीर मोहम्मद, अखिल ट्रेडर्स एवं विजय नगर स्थित बजाज एंड कंपनी के गोदामों में जांच की गई. खाद्य विभाग की टीम जब जांच करने पहुंची तो वहां ना तो स्टॉक रजिस्टर मिला और ना ही बोर्ड पर कोई सूचना थी. जब व्यापारियों के ऑन लाइन पोर्टल की जांच की गई तो उसमें भी डाटा अपलोड नहीं किया गया था. बस उसके बाद तीनों व्यापारियों के गोदामों में रखा 1 लाख 72 हजार लीटर से ज्यादा खाद्य तेल की जब्त कर लिया गया. इस माल की कीमत 2 करोड़ 61 लाख रुपये आंकी गयी है.

अधिक पढ़ें ...

जबलपुर. खाद्य तेल की आसमान छू रही कीमतों के बीच मुनाफाखोरों ने तेल की कालाबाजारी करने के लिए जमाखोरी शुरू कर दी है. जबलपुर में व्यापारी जमाखोरी कर रहे हैं. खाद्य विभाग की टीम ने शहर के तीन बड़े कारोबारियों के ठिकाने पर छापा मारा. ये तीनों करोड़ों रुपये का तेल जमा करके बैठे थे. माल जब्त कर लिया गया है और उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा रही है.

अंतर्राष्ट्रीय आयात प्रभावित होने के बाद देश में खाद्य तेल की कीमतें आसमान छू रही हैं. इसी का फायदा व्यापारी उठा रहे हैं. खाद्य तेल के व्यापारी कालाबाजारी में जुट गए हैं. जबलपुर में खाद्य विभाग ने ऐसे ही तीन तेल व्यापारियों के गोदामों में छापा मारा. ये तीनों करीब 2 करोड़ 61 लाख रूपये कीमत का खाद्य तेल गोदाम में छुपाकर बैठे थे. टीम ने सारा माल जब्त कर लिया.

खाद्य तेल की जमाखोरी
जानकारी के मुताबिक खाद्य विभाग की टीम को खाद्य तेल की जमाखोरी और कालाबाजारी की खबर मिल रही थी. टीम निकली और जिले के चंडालभाटा में थोक और फुटकर तेल व्यापारी हाजी मोहम्मद पीर मोहम्मद, अखिल ट्रेडर्स एवं विजय नगर स्थित बजाज एंड कंपनी के गोदामों में जांच की गई. खाद्य विभाग की टीम जब जांच करने पहुंची तो वहां ना तो स्टॉक रजिस्टर मिला और ना ही बोर्ड पर कोई सूचना थी. जब व्यापारियों के ऑन लाइन पोर्टल की जांच की गई तो उसमें भी डाटा अपलोड नहीं किया गया था. बस उसके बाद तीनों व्यापारियों के गोदामों में रखा 1 लाख 72 हजार लीटर से ज्यादा खाद्य तेल की जब्त कर लिया गया. इस माल की कीमत 2 करोड़ 61 लाख रुपये आंकी गयी है.

ये भी पढ़ें-रेप के आरोपी ABVP नेता के लिए भारी पड़ा “भैया जी इज बैक”, सुप्रीम कोर्ट ने रद्द की जमानत

चोरी छुपे खरीदा माल
व्यापारियों ने 30 मार्च से 30 अप्रैल तक जो माल खरीदा गया था उसकी भी जानकारी रिकॉर्ड में दर्ज नहीं की थी. सारी जानकारी छुपाई थी. इसलिए आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 एवं मप्र खाद्य तेल एवं तिलहन व्यापारी नियमन आदेश 2022 के तहत प्रकरण दर्ज कर तेल जब्त कर लिया गया. अधिकारियों के मुताबिक हाजी मोहम्मद पीर मोहम्मद की गोदाम से 59 हजार 13 लीटर, अखिल ट्रेडर्स से 57 हजार 880 लीटर और बजाज ट्रेडर्स से 55 हजार 190 लीटर तेल जब्त किया गया. खाद्य विभाग ने गोदामों को सील कर दिया है. व्यापारियों को खरीद बिक्री की जानकारी देने के लिए नोटिस दिया गया है. यदि व्यापारी जानकारी प्रदान नहीं देते हैं तो उनके खिलाफ और भी कई धाराओं में केस दर्ज किया जाएगा.

Tags: Edible oil, Jabalpur news, Raid

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर