Home /News /madhya-pradesh /

भ्रष्टाचार कथाः रिटायर्ड जनपद पंचायत सीईओ के घर छापा, खुद रहता था किराए पर, 4 मकान मिले

भ्रष्टाचार कथाः रिटायर्ड जनपद पंचायत सीईओ के घर छापा, खुद रहता था किराए पर, 4 मकान मिले

जबलपुर में रिटायर्ड जनपद पंचायत सीईओ के घर ईओडब्ल्यू ने छापा मारा. आरोपी ने भ्रष्टाचार से अकूत संपत्ति बनाई है.

जबलपुर में रिटायर्ड जनपद पंचायत सीईओ के घर ईओडब्ल्यू ने छापा मारा. आरोपी ने भ्रष्टाचार से अकूत संपत्ति बनाई है.

EOW Raid: जनपद पंचायत से रिटायर्ड सीईओ नागेंद्र यादव के ठिकानों पर EOW ने छापा मारा. यादव के तिलहरी, मंडला और भोपाल के मकानों पर ये छापे एक साथ मारे गए. उसके यहां 85 लाख रुपए की अतिरिक्त आय मिली है. आरोपी ने भ्रष्टाचार से अकूत संपत्ति बनाई है.

अधिक पढ़ें ...

जबलपुर. आर्थिक अपराध ब्यूरो ने मंडला में जनपद पंचायत से रिटायर्ड सीईओ नागेंद्र यादव के मकानों पर गुरुवार सुबह छापा मारा. ईओडब्ल्यू ने यादव के तिलहरी, मंडला और भोपाल के मकानों पर एक साथ छापे मारे. उसके पास से 85 लाख रुपए की अतिरिक्त आय मिली है. आरोपी के पास जबलपुर, मंडला और भोपाल में 4 मकान, मंडला में एक व्यावसायिक कॉम्प्लेक्स भी मिला है. उसने मंडला में काफी जमीन भी खरीदी है.

नागेंद्र यादव पहले आदिवासी विभाग में संयोजक पद पर था. उसने उच्च अधिकारियों से संबंध बनाकर मंडला जनपद पंचायत के सीईओ प्रभारी का पद हासिल कर लिया था.. फिलहाल वो रिटायर है, लेकिन पिछले 10 साल में उसने आय से काफी ज्यादा संपत्ति बनाई है. यादव के मंडला में दो, जबलपुर और भोपाल में एक-एक घर है. जबलपुर के तिलहरी स्थित थीम पार्क में बना मकान काफी बड़ा है. यादव को खुद ये मकान इतना बड़ा लगा कि उसमें नहीं रहा. उसने इस मकान को 40 हजार रुपए किराए पर दे रखा है, जबकि खुद 10000 के किराये के घर में रह रहा है.

EOW, raid, Nagendra Yadav, Jabalpur news, Mandla news, Bhopal news, corruption, mp news, Madhya Pradesh ki taza khabar, Jabalpur ki taza khabar, मध्य प्रदेश के ताजा समाचार, जबलपुर के ताजा समाचार

ईओडब्ल्यू की टीम ने सुबह अचानक यादव के घर छापा मार दिया.

EOW को यादव की आय से 716 प्रतिशत ज्यादा संपत्ति का ब्योरा मिला है. 1990 में पदस्थ हुआ नागेंद्र यादव 2005 के बाद प्रतिनियुक्ति पर जनपद पंचायत घुघरी, जिला मंडला, जनपद पंचायत घंसौर, जिला सिवनी और उसके बाद शहडोल में जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के रूप में पदस्थ रहा है. अपने सेवाकाल के दौरान इसने कुल 1191807 रुपए वेतन पाया. जबकि इसका खर्च 97,30,181 रुपये रहा. ये आरोपी की आय से 85 लाख 38 हजार 374 रुपये यानी 716 प्रतिशत अधिक है. इस मामले में पुलिस ने आरोपी के विरुद्ध भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 13 (1)बी 13( 2) पीसी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है.

EOW, raid, Nagendra Yadav, Jabalpur news, Mandla news, Bhopal news, corruption, mp news, Madhya Pradesh ki taza khabar, Jabalpur ki taza khabar, मध्य प्रदेश के ताजा समाचार, जबलपुर के ताजा समाचार

यादव के जबलपुर घर की सर्चिंग जारी है.

फिलहाल आरोपी के जबलपुर वाले घर पर सर्चिंग चल रही है. इसके बाद टीम उसे लेकर मंडला जाएगी. यहां उसकी मौजूदगी में ही ताला खोला जाएगा. ईओडब्ल्यू की एक टीम वहां पहले से मौजूद है. बताया जाता है कि आरोपी की दो बेटियां हैं. एक की शादी हो चुकी है. दूसरी बेटी पीएससी की तैयारी कर रही है. वह पिता के साथ ही रहती है.

Tags: EOW, Jabalpur news, Mp news, Raid

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर