• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • जबलपुर की इन बालाओं से रहें बच के! महिलाओं से दोस्ती करके उन्हें यूं करती हैं बदनाम

जबलपुर की इन बालाओं से रहें बच के! महिलाओं से दोस्ती करके उन्हें यूं करती हैं बदनाम

जबलपुर में महिलाओं से दोस्ती कर उन्हें ब्लैकमेल करने का मामला सामने आया है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जबलपुर में महिलाओं से दोस्ती कर उन्हें ब्लैकमेल करने का मामला सामने आया है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जबलपुर (Jabalpur) की ये बालाएं महिलाओं (Women) से दोस्ती कर उनके करीब आती और फिर उन्हें ही बदनाम करने की साजिश करने लगती हैं. महिलाओं पर झूठे लांछन लगाकर उनसे लाखों रुपयों की अवैध वसूली करती हैं.

  • Share this:

जबलपुर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के जबलपुर (Jabalpur) में शातिर महिलाओं का कारनामा कुछ महिलाओं (Women) को ही परेशान कर दिया है. ये बालाएं महिलाओं से दोस्ती कर उनके करीब आती और फिर उन्हें ही बदनाम करने की साजिश करने लगती हैं. महिलाओं पर झूठे लांछन लगाकर उनसे लाखों रुपयों की अवैध वसूली करती हैं. इस काम में औरतों के नेतृत्व में पूरा गिरोह (Gang) काम करता है, यह टारगेट उन महिलाओं को करती हैं, जो आमतौर पर अपने पति से दूर रहती हैं.  एक सरकारी महिला कर्मचारी की शिकायत पर पुलिस 2 महिलाओं को गिरफ्तार किया तो पूरे मामले का खुलासा हुआ.

दरअसल जबलपुर पुलिस (Jabalpur Police) ने दो शातिर ब्लैकमेलर महिलाओं को गिरफ्तार किया है जो खुद को हिन्दू संगठन का पदाधिकारी बताकर महिलाओं से दोस्ती करती थीं. इसके बाद शुरू होता था महिलाओं को ब्लैकमेल करने का गोरखधंधा. दोस्ती बढ़ाने के बाद उन्हें चरित्र पर लांछन लगाकर बदनाम करने की धमकी देकर महिलाओं से पैसे वसूल किये जाते थे. इस ब्लैकमेलिंग के काम में एक महिला का कथित पत्रकार पति भी उनका मददगार बनता था. इस गिरोह का पर्दाफाश तब हुआ जब केंद्र सरकार की नौकरी में सेवारत एक महिला को इन्होंने जाल में फंसाया. रानी द्विवेदी और चित्रा आम्रवंशी नामक महिलाओं ने पीड़िता से दोस्ती की और उसके घर आना जाना शुरू किया.

लाखों रुपयों की वसूली की
जबलपुर के एएसपी रोहित काशवानी ने बताया कि शिकायतकर्ता महिला का पति खेती का कार्य करता है और ज्यादातर अपने गांव में ही रहता है. महिला अपने दो बच्चों के साथ सिविल लाइन क्षेत्र में रहती थी. दोनों आरोपी महिलाओं ने उसके चरित्र पर लांछन लगा बदनाम करने एवं नौकरी से निकलवा देने की धमकी देते हुए लाखों रुपए ऐंठ लिए. पीड़िता ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उससे अभी तक 3 लाख रुपये से ज्यादा की रकम ऐंठ चुकी दोनों महिलाएं अब 10 लाख रुपये और देने की मांग कर रही हैं. दोनों शतिर युवतियों में एक युवती का पति भी समूचे षड़यंत्र में शामिल रहा, जो खुद को पत्रकार होना बताता रहा है. पीड़िता की शिकायत पर महिला थाना पुलिस ने आरोपियों के विरुद्ध 386 , 384 , 456 , 327 , 341 , 506 , 190 , 294 , 34 का अपराध पंजीबद्ध करते हुए दोनों शातिर महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया. वहीं फरार कथित पत्रकार विकास द्विवेदी की गिरफ्तारी के प्रयास पुलिस कर रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज