मरीजों के लिए राहत लाया Unlock 1.0, हो सकेंगी 4 हजार से ज्यादा सर्जरी
Jabalpur News in Hindi

मरीजों के लिए राहत लाया Unlock 1.0, हो सकेंगी 4 हजार से ज्यादा सर्जरी
जबलपुर में मरीजों के लिए राहत लाया Unlock 1.0 (फाइल फोटो)

जबलपुर (Jabalpur) में ना केवल सरकारी अस्पताल, बल्कि निजी अस्पतालों को भी संभागायुक्त ने निर्देश दिए हैं कि वे अनलॉक के पहले चरण के साथ ही अपनी फुल फंक्शनिंग में आएं और स्वास्थ्य सुविधाओं को वापस सुचारू रूप से शुरू करें.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
जबलपुर. 1 जून से अनलॉक के पहले चरण की शुरुआत हो गई है. केन्द्र सरकार से मिले निर्देशों के बाद अब मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में भी छूट का दायरा लॉकडाउन में देखने को मिल रहा है. जबलपुर (Jabalpur) स्थित महाकौशल संभाग के सबसे बड़े और अधुनिक मेडिकल कॉलेज अस्पताल समेत प्राईवेट अस्पतालों में लंबित 4 हजार से ज्यादा सर्जरी करने को हरी झंडी संभागायुक्त महेशचंद्र चैधरी ने दे दी है. बातचीत के दौरान संभागायुक्त ने बताया कि प्रथम चरण मे 4 हजार के करीब सर्जरीज को शॉर्टलिस्ट किया गया है जिसके लिए वीक्ली प्लांनिग कर मीटिंग भी ली जाएगी और समय समय पर मॉनिटरिंग होगी.

संभागायुक्त ने बताया कि मेडिकल के अलग-अलग डिपार्टमेंट्स में पेंडिंग सर्जरी की लंबी फेहरिस्त है. सबसे पहले उन आवश्यक सर्जरी को पूरा किया जाएगा जिसमें मरीज की हालत ज्यादा गंभीर है.

संभाग के अलग-अलग जिलो से मंगवाई गई जानकारी
इसके साथ-साथ संभाग मे आले वाले बालाघाट, छिंदवाड़ा, कटनी और नरसिंहपुर समेत 8 जिलों में लंबित सर्जरीज की भी लिस्ट मंगवाई गई है. ना केवल सरकारी अस्पताल, बल्कि निजी अस्पतालों को भी संभागायुक्त ने निर्देश दिए हैं कि वे अनलॉक के पहले चरण के साथ ही अपनी फुल फंक्शनिंग में आएं और स्वास्थ्य सुविधाओं को वापस सुचारू रूप से शुरू करें. एक लिहाज से अनलॉक 01 की शुरूआत मरीजों के लिए बड़ी राहत कही जा सकती है. महाकौशल संभाग के केन्द्र बिंदू होने के नाते स्वास्थ्य के लिहाज से भी एक बड़ा दबाव जबलपुर में होता है और आसपास के जिलो से सभी मरीज जबलपुर पहुंचते हैं.



मध्‍य प्रदेश में 30 जून तक लागू है लॉकडाउन


मध्य प्रदेश सरकार ने लॉकडाउन के पांचवें चरण यानि अनलॉक 1.0 (Unlock 1.0) की गाइडलाइन जारी कर दी हैं. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 31 मई की रात प्रदेश की जनता के नाम अपने संबोधन में अनलॉक 1.0 की गाइड लाइन पेश की. गाइडलाइंस के ज्यादातर प्रावधान केंद्र की गाइड लाइन पर ही आधारित हैं जिसके तहत सरकार ने 8 जून से प्रदेश भर में धार्मिक स्थल खोलने का फैसला किया है. प्रदेश में किसी भी जोन में आने जाने के लिए अब पास की जरूरत नहीं होगी. 1 जून से पास चेकिंग की व्यवस्था प्रदेश भर में खत्म कर दी जाएगी हालांकि कंटेनमेंट एरिया में प्रतिबंध अभी जारी रहेंगे.

प्रदेश में लॉकडाउन की अवधि 30 जून तक बढ़ाई गई है, जबकि स्कूल खोलने का फैसला जुलाई से किया जाएगा. यानी जून में स्कूल नहीं खोले जाएंगे. सीएम शिवराज ने जनता के नाम अपने संबोधन में कुछ रियायतों का ऐलान किया है. तो वहीं, कोरोना से बचने के लिए उन्होंने एक कहानी भी सुनाई जो पक्षियों को शिकारी से बचने के लिए एक साधु की ओर से दिए गए मंत्र पर आधारित थी, जिसमें साधु बाबा ने पक्षियों से कहा था कि शिकारी के जाल से बचना है तो ये मंत्र याद रखना- शिकारी आएगा, दाना डालेगा, जाल बिछाएगा, हम जाल में नहीं फंसेंगे.

ये भी पढ़ें: Unlock 1.0 पर सियासत: कमलनाथ बोले- बिजली उपभोक्ताओं के पूरे बिल किये जाएं माफ
First published: June 1, 2020, 4:14 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading