लाइव टीवी

बच्चे की मौत से दुखी पिता ने अस्पताल से कूदकर की खुदक़ुशी, सदमे में मां ने दम तोड़ा

Pavan Patel | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 6, 2019, 5:10 PM IST
बच्चे की मौत से दुखी पिता ने अस्पताल से कूदकर की खुदक़ुशी, सदमे में मां ने दम तोड़ा
नवजात बच्चे की मौत से आहत पिता ने की खुदक़ुशी

रेशमा का अस्पताल में इलाज चल रहा था.जब उसे पति रंजीत की मौत की ख़बर मिली तो उसकी और ज़्यादा तबियत बिगड़ गयी और उसकी भी मौत हो गयी.

  • Share this:
जबलपुर. जबलपुर (Jabalpur) में दिल दहला देने वाला वाकया हुआ. यहां बच्चे की मौत से दुखी एक पिता ने मेडिकल कॉलेज अस्पताल (medical college hospital) की तीसरी मंज़िल से छलांग लगा दी. बुरी तरह ज़ख्मी पिता को ICU में भर्ती कराया गया, लेकिन उसने भी दम तोड़ दिया. पति और बच्चे की मौत का सदमा पत्नी भी नहीं सह पायी और उसकी भी मौत हो गयी.

मेडिकल कॉलेज में हादसा-जबलपुर का नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज अस्पताल में हुए वाकये से सब सकते में हैं. यहां अपने नवजात शिशु की मौत से आहत पिता ने अस्पताल की इमारत से कूदकर खुदकुशी कर ली.कटनी के झोला गांव के रहने वाले रंजीत गोंटिया की पत्नी रेशमा ने कटनी के अस्पताल में एक बच्चे को जन्म दिया था. शिशु की तबियत खराब हुई और जन्म के कुछ देर बाद ही उसकी मौत हो गई. रेशमा की हालत भी ख़राब थी इसलिए उसे जबलपुर के मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया.
बच्चे की मौत और पत्नी की तबियत खराब होने से रंजीत इतना आहत हुआ कि उसने अस्पताल की तीसरी मंज़िल से छलांग लगा दी. उसे गंभीर हालत में आईसीयू में भर्ती किया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.
पति की मौत की ख़बर सुनकर पत्नी की मौत

रेशमा का अस्पताल में इलाज चल रहा था.जब उसे पति रंजीत की मौत की ख़बर मिली तो उसकी और ज़्यादा तबियत बिगड़ गयी और उसकी भी मौत हो गयी.
सुरक्षा पर सवाल
नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज अस्पताल को एक महीने पहले ही सुपर स्पेशलिटी अस्पताल का तमगा मिला है. यहां एक समय में 35 से ज्यादा सुरक्षा कर्मी तैनात रहते हैं. इसके बाद भी रंजीत का तीसरी मंजिल पर पहुंचकर छलांग लगा सुरक्षा में खामी बता रहा है. देना यह देश का एकलौता अस्पताल है जहां मीडिया कर्मियों के प्रवेश पर प्रतिबंध है.
Loading...

ये भी पढ़ें-मुझे अदालत पर पूरा भरोसा, न्याय मिलेगा-प्रह्लाद लोधी

प्रह्लाद लोधी की याचिका पर सुनवाई पूरी, फैसला सुरक्षित

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जबलपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2019, 5:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...