लाइव टीवी

वित्त मंत्री तरुण भनोत का प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष को चैलेंज, ये है वजह

Prateek Mohan Awasthi | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 7, 2019, 2:22 PM IST
वित्त मंत्री तरुण भनोत का प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष को चैलेंज, ये है वजह
वित्त मंत्री तरुण भनोत ने प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष को किया चैलेंज

बीजेपी (bjp) के मुताबिक सरकार को पहले ही 900 करोड़ रुपए राहत पैकेज (Relief package) के नाम पर मिल चुके हैं. लेकिन उसमें से 9 रुपए भी किसानों को राहत के नाम पर नहीं दिए गए.

  • Share this:
जबलपुर. मध्य प्रदेश (Madhya pradesh) में बाढ़ (flood) पीड़ित किसानों (farmer) को राहत देने के सिवाए इन दिनों सब कुछ हो रहा है. भाजपा और कांग्रेस (bjp & congress) के बीच जमकर राजनीति और बयानबाज़ी से इसकी शुरुआत हुई जो अब सच और झूठ की लड़ाई बन गई है. 7 हज़ार करोड़ से अधिक के राहत पैकेज (Relief package) की उम्मीद लगाए प्रदेश सरकार  (state government) को लगता है कि शायद ही केन्द्र से कुछ मिलेगा. लेकिन बीजेपी कह रही है केंद्र पैसा दे चुका है राज्य सरकार उसे किसानों तक नहीं पहुंचा रही है.

मध्य प्रदेश में इस साल हुई रिकॉर्ड तोड़ बारिश ने दरअसल किसान की कमरतोड़ दी है. फसलें बारिश के कारण पूरी तरह चौपट हैं. बस इसी मुद्दे पर कांग्रेस-बीजेपी आमने-सामने हैं. कांग्रेस केंद्र पर भेदभाव का आरोप लगा रही है, जबकि बीजेपी के मुताबिक सरकार को पहले ही 900 करोड़ रूपए आपदा के नाम पर मिल चुके हैं. लेकिन उसमें से 9 रुपए भी किसानों को राहत के नाम पर नहीं दिए गए.
राहत पैकेज का सच
पहले आपदा ने अन्नदाता को परेशान किया और अब राजनीति ने ज़ख्म पर नमक छिड़क रही है. बाढ़ के बाद सर्वे की बात हुई लेकिन राहत अब तक किसानों को नहीं मिली. कर्ज़ के बोझ तले दबी प्रदेश सरकार ने बाढ़ राहत के नाम पर केन्द्र का दरवाज़ा जरूर खटखटाया लेकिन राहत के लिए केन्द्र और राज्य आपसी खींचतान में ही लगे हुए हैं.

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष का नया राग
बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह जो अब तक ये कह रहे थे कि केन्द्र के पास राज्य सही ढ़ंग से राहत की मांग करने नहीं पहुंचा, अब नया बयान दे रहे हैं. उनके मुताबिक आपदा के नाम पर प्रदेश को पहले से ही 900 करोड़ की राशि मिल गई है. लेकिन राहत के लिहाज़ से किसानों को 9 रूपए भी नहीं बांटा गया.
वित्त मंत्री ने किया चैलेंज
Loading...

राकेश सिंह के इस बयान पर प्रदेश के वित्त मंत्री तरुण भनोत हैरत में हैं. उन्होंने राकेश सिंह को महान करार देते हुए चैलेंज किया कि प्राकृतिक आपदा के नाम पर नौ पैसे भी राज्य को नसीब नहीं हुए हैं. जिस 900 करोड़ की बात राकेश सिंह कर रहे हैं. वो एसडीआरएफ फंड की राशि है जो हर साल देश के हर राज्य को केन्द्र से मिलती है.
राहत की उम्मीद लिए बैठे प्रदेश के किसानों को ना बीजेपी से मतलब है ना कांग्रेस से. उसे तो बस राहत पैकेज चाहिए. किसान के सामने सावन और भादौ बीत गया है. लेकिन राहत अब तक उनके पास नहीं पहुंची है.

ये भी पढ़ें-बर्ख़ास्त MLA प्रह्लाद लोधी को फौरी राहत,जबलपुर हाईकोर्ट ने सज़ा पर लगायी रोक

मंत्री के भांजे-भतीजे की गुंडागर्दी का विरोध:नगर निगम अफसर को भेजीं चूड़ियां

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जबलपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 7, 2019, 2:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...