पूर्व मंत्री हरेंद्रजीत सिंह बब्बू ने बांटीं घड़ियां, आचार संहिता उल्‍लंघन का केस दर्ज

हरेंद्रजीत सिंह बब्बू ने ऐसी लगभग 1 लाख घड़ियां बनवाई हैं, जो पश्चिम क्षेत्र के कई मतदाताओं के घरों में लगी हुई हैं. 6 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लगने के बाद इस तरह से प्रचार करना वर्जित है.

Pavan Patel | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 12, 2018, 7:23 PM IST
पूर्व मंत्री हरेंद्रजीत सिंह बब्बू ने बांटीं घड़ियां, आचार संहिता उल्‍लंघन का केस दर्ज
हरेंद्रजीत सिंह बब्‍बू और उनके द्वारा बांटी गई घड़ी.
Pavan Patel | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 12, 2018, 7:23 PM IST
मध्‍यप्रदेश के जबलपुर में सरकार में मंत्री रह चुके भाजपा के पूर्व विधायक के खिलाफ पुलिस ने आचार संहिता उल्लंघन का प्रकरण दर्ज किया है. दरअसल जबलपुर पश्चिम विधानसभा सीट से टिकट के दावेदार हरेंद्रजीत सिंह बब्बू मतदाताओं को लुभाने के लिए उन्हें दीवार घड़ी बांट रहे थे, जिनमें उनकी तस्वीर बनी हुई है.

जानकारी के मुताबिक हरेंद्रजीत सिंह बब्बू ने ऐसी लगभग 1 लाख घड़ियां बनवाई हैं, जो पश्चिम क्षेत्र के कई मतदाताओं के घरों में लगी हुई हैं. 6 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लगने के बाद इस तरह से प्रचार करना वर्जित है. दो दिन पूर्व भी बब्‍बू ने गढ़ा क्षेत्र में कई लोगों को घड़ियां बांटी र्थीं. इसके बाद वे बुधवार को भी गढ़ा स्थित मेडिकल हॉस्पिटल के सामने बस्ती में पहुंचे थे, जहां ऑटो में रखकर घड़ि‍यां बांटी जा रही थीं.

इसकी जानकारी निर्वाचन कार्यालय के अधिकारियों को मिल गई और उन्होंने मौके पर पहुंचकर जांच की. इस दौरान एक घड़ी भी अधिकारियों ने जब्त की है, जिसमें पूर्व विधायक बब्बू की तस्वीर बनी हुई है. अधिेकारियों के अनुसार बब्‍बू का यह कार्य आचार संहिता के दौरान नियम विरुद्ध तरीके से पारितोष वितरण के तहत आता है.

बहरहाल पुलिस ने निर्वाचन कार्यालय की सूचना पर बब्बू के खिलाफ धारा 188 के तहत प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू की है. यदि पुलिस को गवाह और साक्ष्य मिलते हैं, तो भाजपा के पूर्व विधायक को सजा भी हो सकती है. वहीं यह भी कयास लगाए जा रहे हैं कि संगठन भी उनके खिलाफ एक्शन ले सकता है.

यह भी पढ़ें- आचार संहिता: पांच दिन में संपत्ति विरूपण के 3.44 लाख मामले दर्ज

यह भी पढ़ें- आचार संहिता : कलेक्‍टर ने बंद कराया नगर निगम का आवासीय मेला

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->
काउंटडाउन
काउंटडाउन 2018 विधानसभा चुनाव के नतीजे
2018 विधानसभा चुनाव के नतीजे