MP विधान सभा उपाध्यक्ष हिना कांवरे बोलीं- दुर्घटना की होनी चाहिए उच्च स्तरीय जांच

सड़क दुर्घटना रविवार देर रात हुई. हिना बालाघाट से अपने ग्रह ग्राम किरनापुर लौट रही थीं. किरनापुर से 16 किमी दूर सलेटका के पास उनके कारकेड में लगी गाड़ी को सामने से आ रहे 16 चक्कों के ट्रॉला ने टक्कर मार दी.

Prateek Mohan Awasthi | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 14, 2019, 5:39 PM IST
Prateek Mohan Awasthi | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 14, 2019, 5:39 PM IST
मध्य प्रदेश विधानसभा उपाध्यक्ष हिना कांवरे ने सड़क हादसे की उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की है. हिना के पिता लिखी राम कांवरे की नक्सलियो ने घर में घुसकर गला रेत कर 1999 में हत्या कर दी थी. लिखीराम उस वक्त दिग्विजय सिंह सरकार में परिवहन मंत्री थे. हिना के काफ़िले के साथ हुई दुर्घटना के पीछे आशंका जताई जा रही है कि कहीं ये नक्सली साज़िश तो नहीं. हालांकि हिना कांवरे ने कहा अभी इतनी जल्दी कुछ कहा नहीं जा सकता.

रविवार देर रात हुए सड़क हादसे में हिना तो बाल-बाल बचीं लेकिन वो गहरे सदमे में हैं. इस दुर्घटना में फॉलोगार्ड ड्यूटी में लगे एक सब इंस्पेक्टर,एक हेड कॉस्टेबल, एक कांस्टेबल सहित एक प्राइवेट ड्राइवर की मौत से वो स्तब्ध हैं. विधान सभा अध्यक्ष ने पूरे मामले की हाई लेवल इंक्वायरी की मांग की है. साथ ही कहा कि मृतकों के परिवार को सरकार से ज़्यादा से ज़्यादा मदद मिले.

ये भी पढ़ें - ये हादसे में बाल-बाल बचीं MP विधानसभा उपाध्यक्ष हिना कांवरे, ड्राइवर और 3 पुलिसकर्मियों की मौत

ये सड़क दुर्घटना रविवार देर रात हुई. हिना बालाघाट से अपने ग्रह ग्राम किरनापुर लौट रही थीं. किरनापुर से 16 किमी दूर सलेटका के पास उनके कारकेड में लगी गाड़ी को सामने से आ रहे 16 चक्कों के ट्रॉला ने टक्कर मार दी. टक्कर इतनी ज़बरदस्त थी कि इसमें हिना कांवरे के निजी ड्राइवर सहित 3 पुलिस जवानों की मौत हो गयी.


Loading...

मृतकों के नाम-
-उपनिरीक्षक हर्षवर्धन सोलंकी, 30 साल
- प्रधान आरक्षक हामिद, 50 साल
-सचिन सहारे, 22 साल, निजी ड्राइवर
- आरक्षक- राहुल कोलारे, छिंदवाड़ा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जबलपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2019, 11:28 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...