हाथरस की 'नकली भाभी' के खिलाफ हिन्दू धर्म सेना ने गृहमंत्री अमित शाह को लिखा पत्र

डॉ राजकुमारी बंसल को जबलपुर मेडिकल कॉलेज से क्लीन चिट मिल गयी है.
डॉ राजकुमारी बंसल को जबलपुर मेडिकल कॉलेज से क्लीन चिट मिल गयी है.

योगेश अग्रवाल ने इस सिलसिले में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit shah) और प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को (Shivraj singh) पत्र लिखा है. इसमें उन्होंने मांग की है कि मेडिकल कॉलेज के जिस पद पर महिला चिकित्सक पदस्थ हैं उन्हें तत्काल निलंबित किया जाए.

  • Share this:
जबलपुर. उत्तर प्रदेश (UP) के हाथरस (Hathras) केस के बाद लगातार सुर्खियों में आई पीड़िता की कथित भाभी उर्फ जबलपुर की महिला चिकित्सक राजकुमारी बंसल पर अब नया आरोप लगा है. हिंदू धर्म सेना ने उन्हें नक्सली एजेंट बताते हुए उनके खिलाफ बड़े आंदोलन की चेतावनी दे दी है. धर्म सेना ने गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) को भी पत्र लिख कर जांच की मांग की है.

हाथरथ जाकर पीड़ित परिवार की सदस्य बनकर बैठी जबलपुर की डॉ राजकुमारी बंसल ने फेसबुक पर जाति विशेष को लेकर एक पोस्ट की. हालांकि बाद में उसे हटा लिया. ये पोस्ट अब कई सवाल खड़े कर रही है. फेसबुक में जाति विशेष को लेकर की गई अनर्गल पोस्ट और नक्सल कनेक्शन के आरोपों के बीच हिंदू धर्म सेना के प्रदेश अध्यक्ष योगेश अग्रवाल ने न्यूज 18 से बातचीत की. उन्होंने डॉक्टर बंसल पर कई गंभीर आरोप लगाए. उन्होंने आशंका जताई है कि जिस प्रकार से डॉक्टर बंसल खुद को सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में प्रदर्शित कर रही हैं और जाति विशेष के लिए एक मानवीय रवैया अपनाते हुए हाथरस पहुंचने की बात बार-बार दोहरा रही हैं,उस पर कई सवाल खड़े हो रहे हैं.

गृहमंत्री अमित शाह और सीएम शिवराज को लिखा पत्र
योगेश अग्रवाल ने इस सिलसिले में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखा है. इसमें उन्होंने मांग की है कि मेडिकल कॉलेज के जिस पद पर महिला चिकित्सक पदस्थ हैं उन्हें तत्काल निलंबित किया जाए. इसके साथ ही साथ स्वतंत्र जांच एजेंसी से इनके कॉल रिकॉर्ड और विगत वर्षों में किए गए तमाम कार्यों की जांच करवायी जाए. योगेश अग्रवाल ने संदेह जताया कि इस महिला चिकित्सक के नक्सलियों से भी कनेक्शन हो सकते हैं. जिस प्रकार से कांग्रेस और अन्य विपक्षी दल मामला उजागर होने के बाद से उनके समर्थन में उतरे हैं उससे स्पष्ट है कि उनके राजनीतिक पार्टियों से भी ताल्लुकात हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज