• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • गृहमंत्री अमित शाह कल जबलपुर आ रहे हैं, शहीद शंकर शाह और रघुनाथ शाह की शहादत को करेंगे नमन

गृहमंत्री अमित शाह कल जबलपुर आ रहे हैं, शहीद शंकर शाह और रघुनाथ शाह की शहादत को करेंगे नमन

18 सितंबर को भाजपा के दिग्गज नेता अमित शाह जबलपुर पहुंचेंगे.

18 सितंबर को भाजपा के दिग्गज नेता अमित शाह जबलपुर पहुंचेंगे.

Tribals Politics in MP : कांग्रेस विधायक (Congress MLA) विनय सक्सेना का कहना है भाजपा ना जाने किस मुगालते में हैं और अनाप-शनाप बयानबाजी कर रही है. जिन आदिवासी नेताओं के नाम पर कांग्रेस ने प्रतिमा की स्थापना की उनके बलिदान दिवस पर विस्तृत आयोजनों की घोषणा की. उनके नाम पर दशकों बाद भाजपा का कोई दिग्गज नेता वीर शहीदों को नमन करने पहुंच रहा है.

  • Share this:

जबलपुर. उप चुनाव सिर पर हैं और फिर उसके बाद मिशन 2023. यानि विधानसभा चुनाव. आदिवासी वोट बैंक पर नजर जमाए बैठे राजनीतिक दल फिर सक्रिय हो उठे हैं. कांग्रेस और बीजेपी जबलपुर में  कल 18 सितंबर को बड़ा आयोजन करने जा रही हैं. BJP का ये आयोजन पहली बार इतने बड़े पैमाने पर हो रहा है. जनजाति जननायक अमर शहीद शंकर शाह और रघुनाथ शाह के बलिदान के बहाने बीजेपी अपनी ज़मीन तलाशेगी. इसमें शामिल होने खुद पार्टी के दिग्गज नेता और देश के गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) यहां आ रहे हैं.

अमर शहीद शंकर शाह और रघुनाथ शाह के बलिदान दिवस पर बीजेपी अब तक का ये सबसे बड़ा आयोजन जबलपुर में करने जा रही है. कार्यक्रम 5 दिन चलेगा जिसका उद्घाटन कल अमित शाह करेंगे.
गृहमंत्री अमित शाह शनिवार 18 सितंबर को सुबह 11.30 बजे गृह जबलपुर के डुमना एयरपोर्ट पहुंचेंगे. यहां से वे सीधे मालगोदाम चौक स्थित अमर शहीद शंकर शाह रघुनाथ शाह के बलिदान स्थल पहुंचेंगे और माल्यार्पण कर अपने दौरे की शुरुआत करेंगे. गृहमंत्री यहां से गैरिसन ग्राउंड जाएंगे जहां आदिवासी जननायकों के नाम पर विशाल आम सभा को संबोधित करेंगे.

सांसद संग लंच
गृहमंत्री अमित शाह दोपहर का भोजन सांसद राकेश सिंह के साथ उनके घर पर करेंगे. यहां से वो उज्जवला योजना के कार्यक्रम में चले जाएंगे. वेटरनरी महाविद्यालय परिसर में आयोजित उज्जवला योजना 2.0 के इस कार्यक्रम में अमित शाह के साथ प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शामिल होंगे. इस कार्यक्रम के बाद गृहमंत्री 4.30 बजे बूथ अध्यक्षों के सम्मेलन में भी शिरकत करेंगे. शाम 6.00 बजे नरसिंह मंदिर पहुंचकर पूजन अर्चन भी करेंगे. गृह मंत्री दिल्ली रवाना होने से पहले शाम करीब 6.30 बजे दयोदय तीर्थ में आचार्य श्री विद्यासागर से मिलेंगे. उसके बाद देर शाम 7.30 बजे विशेष विमान से दिल्ली रवाना हो जाएंगे.

ये भी पढ़ें –  जब Delhi-Mumbai Express-Way पर नितिन गडकरी की कार 170 kmph की रफ्तार से दौड़ी, देखें वीडियो

भारी पुलिस बल तैनात
आयोजन को लेकर तमाम तैयारी पूरी कर ली गई हैं. सुरक्षा के बीच इंतजाम चाक चौबंद है. इसमें 3000 से अधिक का सुरक्षा बल बुलाया गया है और चप्पे-चप्पे पर नज़र रखी जा रही है.

कांग्रेस हर साल करती है कार्यक्रम
आदिवासी जननायकों के बहाने भाजपा कांग्रेस आमने-सामने होंगी. 18 सितंबर को भाजपा के बाद अब कांग्रेस भी अमर शहीदों की याद में वृहद आयोजन करने जा रही है कांग्रेस के आयोजन में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह समेत कई आदिवासी नेता देश भर से शामिल होंगे.

पहली बार बीजेपी
भाजपा पहले ही बड़े आयोजन का ऐलान कर चुकी है तो वहीं कांग्रेस भी आदिवासी जननायकों के सम्मान में कार्यक्रम करने जा रही है. 18 सितंबर को भाजपा के दिग्गज नेता अमित शाह जबलपुर पहुंचेंगे. कांग्रेस की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया, युवक कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष विक्रांत भूरिया समेत देशभर के जाने-माने आदिवासी नेता भी बलिदान स्थली पर नमन करेंगे.

कांग्रेस का भाजपा पर पलटवार
कांग्रेस विधायक विनय सक्सेना का कहना है भाजपा ना जाने किस मुगालते में हैं और अनाप-शनाप बयानबाजी कर रही है. जिन आदिवासी नेताओं के नाम पर कांग्रेस ने प्रतिमा की स्थापना की उनके बलिदान दिवस पर विस्तृत आयोजनों की घोषणा की. उनके नाम पर दशकों बाद भाजपा का कोई दिग्गज नेता वीर शहीदों को नमन करने पहुंच रहा है. कांग्रेस तो हमेशा से ही अमर शहीद शंकर शाह और रघुनाथ शाह के बलिदान दिवस पर आयोजन करती ही आई है यह पहला मौका है जब भाजपा को आदिवासी जननायकों की याद आई है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज