अपना शहर चुनें

States

जबलपुर में गरजे गृह मंत्री अमित शाह, बोले- 4 महीने में आसमान छूता राम मंदिर नजर आएगा

जबलपुर में गृह मंत्री अमित शाह ने विपक्षी दलों के नेताओं पर जमकर प्रहार किया.
जबलपुर में गृह मंत्री अमित शाह ने विपक्षी दलों के नेताओं पर जमकर प्रहार किया.

जबलपुर (Jabalpur) में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के समर्थन में हुई जनसभा में गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने विपक्षी दलों पर जमकर प्रहार किया. वहीं, राम मंदिर (Ram Temple) के मुद्दे पर उन्होंने दावा किया कि 4 महीने के भीतर आसमान छूता मंदिर बन जाएगा.

  • Share this:
जबलपुर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की धरती पर बतौर गृह मंत्री पहली बार आए अमित शाह (Amit Shah) ने नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Act) को लेकर विपक्षी पार्टियों पर जमकर निशाना साधा. जबलपुर (Jabalpur) में जनसभा को संबोधित करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि विपक्षी दलों की भाषा पाकिस्तान जैसी है. शाह ने राहुल गांधी, अरविंद केजरीवाल और ममता बनर्जी को चुनौती देते हुए कहा कि वे ये साबित करके दिखाएं कि CAA से किसी भारतीय की नागरिकता जा सकती है. शाह ने दोहराया कि नागरिकता संशोधन कानून, नागरिकता लेने नहीं, बल्कि देने का कानून है. उन्होंने कहा कि विपक्षी पार्टियां CAA पर लगातार भय और भ्रम फैला रही हैं.

4 महीने में बनेगा राम मंदिर
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल के राम मंदिर निर्माण को लेकर दिए गए बयान पर भी गृह मंत्री ने पलटवार किया. शाह ने दावा किया कि 4 महीने में आसमान छूता राम मंदिर नजर आएगा. जबलपुर के गैरिसन ग्राउंड में हुई सभा में गृह मंत्री अमित शाह ने जेएनयू घटनाक्रम पर भी अपनी प्रतिक्रिया दी. शाह ने कहा कि भारत में जो भी देश विरोधी नारे लगाएगा, उसे केन्द्र सरकार सलाखों के पीछे भेजने का काम करेगी. अमित शाह ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान, ममता बनर्जी, अरविंद केजरीवाल और राहुल गांधी की भाषा एक जैसी होने की बात कही. उन्होंने कहा कि सभी की भाषा एक जैसी होने पर कई सवाल उठ रहे हैं.

कमलनाथ पर साधा निशाना
मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनने पर अमित शाह ने दावा किया कि अगर अभी चुनाव हो जाएं, तो बीजेपी बहुमत से सरकार बना लेगी. उन्होंने मुख्यमंत्री कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि उनकी उम्र ज्यादा जोर से बोलने की नहीं है. उन्होंने कहा कि अगर कमलनाथ को जोर लगाना भी है, तो प्रदेश को ठीक करने में लगाएं. गृह मंत्री ने एमपी में किसान कर्जमाफी और गौशाला बनाने के प्रदेश सरकार के वादे पर भी निशाना साधा. अमित शाह की आमसभा में पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह भी बोले. शिवराज सिंह चौहान ने सीएम कमलनाथ को चुनौती देते हुए कहा कि अगर प्रदेश में CAA लागू नहीं हुआ तो लाखों लोग सड़कों पर उतरेंगे.



ये भी पढ़ें -

9 IPS का DGP बनने का सपना रह जाएगा अधूरा, इस साल 20 आईपीएस अफसर हो रहे रिटायर

 

भोपाल शहर का बंटवारा तय, कमलनाथ सरकार ने गवर्नर को भेजा दो नगर निगम बनाने का प्रस्ताव
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज