लाइव टीवी

जबलपुर: नवरात्रि पर झांकियों में शामिल है चंद्रयान, कश्मीर और बहुत कुछ..

Prateek Mohan Awasthi | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 7, 2019, 4:34 PM IST
जबलपुर: नवरात्रि पर झांकियों में शामिल है चंद्रयान, कश्मीर और बहुत कुछ..
गढ़ा इलाक़े में बनी इसरो की भव्य झांकी वाले पंडाल में श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा

इस नवरात्रि जबलपुर की एक हजार से ज्यादा झांकियों में वो तमाम दृश्य देखने को मिलेंगे जो सालभर सुर्खियों में रहे. इस साल कश्मीर (Kashmir) में अनुच्छेद 370 (Article 370) हटाने की बात हो या चंद्रयान अभियान (The Chandrayan Mission) सब कुछ संस्कारधानी की झांकियों में देखा जा सकता है. इन रंगों में सबसे खास रहा देशभक्ति (Patriotism) का रंग

  • Share this:
जबलपुर. नवरात्रि (Navratri 2019) पर प्रदेश की संस्कारधानी जबलपुर (Jabalpur) में अलौकिक छटा बिखरती है. जबलपुर में हज़ारों की संख्या में भव्य झांकियां (tableaux) बनाने का चलन दशकों से चला आ रहा है. इस साल भी संस्कारधानी में 1100 से अधिक प्रतिमाएं और झांकियां तथा देवी मंडपों की सुंदर साज सज्जा भक्तों का मन मोह रही है. इन झांकियों में श्रद्धालुओं को देशभक्ति से ओत प्रोत नज़ारे भी देखने को मिल रहे हैं तो केंद्र सरकार की उपलब्धियां भी. यहां देश दुनिया के तमाम प्रासंगिक विषय देखे जा सकते हैं.

झांकियों में कश्मीर भी है, इसरो भी.. 
कहीं अखण्ड भारत तो कहीं इसरो का जेएसएलवी यान, जबलपुर की सड़कों में मानों अलग अलग रंग बिखरे हुए हैं. 9 दिनी नवरात्र महापर्व पर अंतिम दिनों में लाखों श्रद्धालु दिन ढलते ही सड़क पर निकल पड़ते हैं. ये सिलसिला देर रात 3 बजे तक चलता रहता है. यहां हज़ारों की संख्या में स्थापित होने वाली मां दुर्गा की प्रतिमाएं और झांकियां लोगों को मंत्रमुग्ध कर देती हैं.

News - जबलपुर में इस साल भी नवरात्रि धूमधाम से मनाई गई. ये है सिटी बंगाली क्लब की भव्य प्रतिमा
जबलपुर में इस साल भी नवरात्रि धूमधाम से मनाई गई. ये है सिटी बंगाली क्लब की भव्य प्रतिमा


यहां बनती हैं संस्कारधानी की प्रसिद्धा झांकियां
शहर के प्रसिद्ध नुनहाई और सुनहाई मां की प्रतिमा स्थापना का इस साल 150 वां वर्ष है. इन मंदिरों को देवरानी जेठानी के नाम से भी जाना जाता है. शारदेय नवरात्र पर मां को शुद्ध सोने के आभूषणों से सजाया जाता है, वहीं चढ़ावे में भी कई तोला सोना भक्त अपनी श्रद्धा के मुताबिक दान करते हैं. इस बार समिति द्वारा मां को दशहरा चल समारोह मे चांदी के रथ पर रवाना करने की तैयारी की गई है.

News - अखंड भारत की झांकी ये प्रतिमा इस साल श्रद्धालुओं के आकर्षण का केंद्र रही
अखंड भारत की झांकी वाली ये प्रतिमा इस साल श्रद्धालुओं के आकर्षण का केंद्र रही

Loading...

संस्कारधानी जबलपुर में मनोकामना वाली महाकाली, गढ़ाफाटक की महाकाली, चंद्रयान की झांकी में विराजी मां की प्रतिमा, अखण्ड भारत के प्रतीक स्वरूप तैयार की गई झांकी में विराजी मां की प्रतिमा हर किसी को आकर्षित कर रहीं हैं. वहीं बंगाली समाज भी बढ़ चढ़कर इस पर्व को मनाते हैं. शहर के अलग-अलग बंगाली क्लबों में मां की अनूठी प्रतिमाओं के दर्शन भक्तों को मिल रहे हैं.

 

ये भी पढ़ें - 
पटवारी संघ से बनी बात, क्या ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन मानेगा ? सरकार ने बातचीत के लिए बुलाया
डीन को हटाने की मांग को लेकर जूडा ने किया काम बंद, प्रदेश भर में हड़ताल की चेतावनी दी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जबलपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 7, 2019, 4:30 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...