Home /News /madhya-pradesh /

Jabalpur News: सरकार को करोड़ों का चूना लगाने वाले सहायक आबकारी आयुक्त को HC से झटका, जानें पूरा मामला

Jabalpur News: सरकार को करोड़ों का चूना लगाने वाले सहायक आबकारी आयुक्त को HC से झटका, जानें पूरा मामला

जबलपुर हाईकोर्ट ने सरकार की कार्रवाही को सही माना है.

जबलपुर हाईकोर्ट ने सरकार की कार्रवाही को सही माना है.

Jabalpur High Court News: जबलपुर हाईकोर्ट ने सहायक आबकारी आयुक्त एसएन दुबे (Assistant Excise Commissioner SN Dubey) को झटका देते हुए उनकी निलंबन आदेश को चुनौती देने वाली याचिका खारिज कर दी है. सहायक आबकारी आयुक्त की करतूत की वजह से शराब के एमआरपी से ऊपर बिकने के कारण मध्‍य प्रदेश सरकार को करोड़ों का नुकसान हुआ था.

अधिक पढ़ें ...

जबलपुर. मध्‍य प्रदेश के जबलपुर हाईकोर्ट (Jabalpur High Court) ने सहायक आबकारी आयुक्त एसएन दुबे (Assistant Excise Commissioner SN Dubey) को झटका देते हुए निलंबन आदेश को चुनौती देने वाली याचिका खारिज कर दी है. इसके साथ हाईकोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है. बता दें कि एमआरपी (MRP) से ऊपर शराब बेचकर शासन को करोड़ों की चपत लगाने की शिकायत के बाद शिवराज सरकार ने जबलपुर के सहायक आबकारी आयुक्त का तत्‍काल प्रभाव से निलंबित कर दिया था.

यही नहीं, जबलपुर हाईकोर्ट ने माना है कि सहायक आबकारी आयुक्त एसएन दुबे को राज्‍य सरकार ने पर्याप्त सबूतों के आधार पर सस्‍पेंड किया है, जो कि एमआरपी के ऊपर शराब बेचकर शासन को करोड़ों का चूना लगा रहे थे.

EOW ने दर्ज किया मामला
बता दें कि एसएन दुबे पर जबलपुर ईओडब्‍ल्‍यू ने भी मामला दर्ज किया है. सीएसडी कैंटीन जबलपुर द्वारा मध्‍य प्रदेश और छत्‍तीसगढ़ के सभी जिलों की आर्मी कैंटीन को सामान की सप्‍लाई करती है, जिसमें शराब की सप्‍लाई भी शामिल है. बता दें कि इसके लिए सीएडी कैंटीन ने लाइसेंस लिया है, लेकिन उक्‍त लाइसेंस के रिन्‍यू करने के लिए महाप्रबंधक ने मार्च 2018 में आवेदन दिया था, लेकिन एसएन दुबे और क्‍लर्क विवेक अग्रवाल ने उसे दबा लिया. इसी वजह से आवेदन रिन्‍यू होने के लिए कलेक्‍टर के पास नहीं पहुंच सका, जिसकी वह से सीएसडी प्रबंधन को निजी ठेकेदारों से शराब खरीदकर मध्‍य प्रदेश और छत्‍तीसगढ़ में सप्‍लाई करनी पड़ी थी. इससे मध्‍य प्रदेश शासन को तीन करोड़ का नुकसान हुआ था.

ये भी पढ़ें- पूर्व CM दिग्विजय सिंह ने लगाए गंभीर आरोप, बोले- अपराध की राजधानी बन गया है MP

जबकि शिकायत मिलने पर ईओडब्‍ल्‍यू ने दुबे और क्‍लर्क पर भ्रष्‍टाचार अधिनियम की विभिन्‍न धाराओं व षणयंत्र रचने की धारा 120 बी के तहत मामला दर्ज किया था. इसके बाद तमाम सबूतों के आधार पर एसएन दुबे के निलंबन की कार्रवाही की गई थी.

Tags: Illegal liquor, Jabalpur crime, Jabalpur High Court, Jabalpur news, Liquor shop, Liquor store, MP Government, New Liquor Policy

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर