होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /

नगर परिषद चुनाव : दलबदल कर भी भेड़ाघाट में हार गए महेश तिवारी, शहपुरा में ननद-भाभी जीतीं

नगर परिषद चुनाव : दलबदल कर भी भेड़ाघाट में हार गए महेश तिवारी, शहपुरा में ननद-भाभी जीतीं

Jabalpur Nagar Parishad Elections : जबलपुर जिले में भेड़ाघाट को छोड़कर बाकी सब नगर परिषद में बीजेपी जीत गयी  है.

Jabalpur Nagar Parishad Elections : जबलपुर जिले में भेड़ाघाट को छोड़कर बाकी सब नगर परिषद में बीजेपी जीत गयी है.

Jabalpur Big News. भेड़ाघाट नगर परिषद का चुनाव रोचक था. यहां पर कांग्रेस से चुनाव जीतकर महेश तिवारी भाजपा में चले गए थे. पार्टी ने उन्हें ही अध्यक्ष पद का प्रत्याशी घोषित किया था. कांग्रेस की तरफ से चतुर पटेल थे. कांग्रेस के चतुर पटेल को 8 वोट मिले जब जबकि महेश तिवारी को 7 वोट पर ही संतोष करना पड़ा. दल बदलना भी महेश तिवारी को फायदा नहीं पहुंचा पाया.

अधिक पढ़ें ...

जबलपुर. नगर निगम एवं नगर परिषद चुनाव के बाद जबलपुर जिले के नगरीय निकायों में आज अध्यक्ष उपाध्यक्ष का चुनाव हुआ. इसमें एक नगर परिषद भेड़ाघाट को छोड़कर बाकी सभी जगह भाजपा ने कब्जा कर लिया है. मजेदार पहलू यह रहा कि कांग्रेस से चुनाव जीतकर दलबदल कर भाजपा में गए महेश तिवारी अध्यक्ष का चुनाव हार गए. तिवारी के दलबदल से चुनाव इतना दिलचस्प हो गया था कि कांग्रेस के चतुर सिंह ने उन्हें कड़े मुकाबले में महज एक वोट से हरा दिया. बाकी सभी जगह सिहोरा, बरेला, शहपुरा एवं पाटन में अध्यक्ष पद पर भाजपा का कब्जा हो गया है. शहपुरा नगर परिषद में भाजपा उम्मीदवार ननद-भाभी निर्विरोध अध्यक्ष और उपाध्यक्ष चुन ली गयीं.

जबलपुर नगर निगम में भाजपा के रिंकू बिज अध्यक्ष चुने गए. महापौर सहित 78 पार्षदों ने मतदान किया. लेकिन एआईएमआईएम के दोनों पार्षद चुनाव में शामिल नहीं हुए. बीजेपी प्रत्याशी रिंकू विज को 44 वोट मिले जबकि कांग्रेस के अयोध्या तिवारी सिर्फ 34 वोट हासिल कर पाए. सांसद राकेश सिंह ने कहा सभी पार्षदों ने रिंकू विज को अध्यक्ष के रूप में चुना है जो भाजपा की संगठनात्मक शक्ति को दर्शाता है. रिंकू विज ने कहा नगर निगम के सभी पार्षदों के साथ मिलकर विकास के काम करेंगे.

सिहोरा

सिहोरा नगर परिषद में कुल 18 पार्षद हैं जिसमें 10 भाजपा के, 6 कांग्रेस और दो निर्दलीय जीतकर आए हैं. सिहोरा में भाजपा के वरिष्ठ नेता पूर्व विधायक दिलीप दुबे की पत्नी संध्या दुबे और कांग्रेस की ओर से राजेश चौबे मैदान में थे. भाजपा को 14 और कांग्रेस प्रत्याशी को 4 मत मिले.

ये भी पढ़ें- एनआईए का बड़ा खुलासा : लॉक डाउन और इज्तिमा के दौरान एमपी में घुसे थे जेएमबी आतंकवादी

बरेला में आपस मे भिड़ी भाजपा 

बरेला नगर परिषद चुनाव में भाजपा पार्षदों में ही बगावत हो गई. कांग्रेस ने यहां से प्रत्याशी नहीं उतारा. जबकि भाजपा की ओर से प्रतीक दुबे और दिनेश पटेल ने अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल किया था. प्रतीक दुबे ने एक वोट से जिनेश पटेल को हरा दिया. प्रतीक को 8 और दिनेश पटेल को 7 वोट मिले.

पाटन में आचार्य जागेंद्र बने अध्यक्ष

पाटन नगर परिषद चुनाव में कांग्रेस की ओर से अर्चना जमुना पटेल ने नामांकन दाखिल किया था. जबकि भाजपा की तरफ से आचार्य जागेंद्र सिंह मैदान पर थे. यहां पर कुल 15 पार्षद हैं. इनमें से भाजपा के 11 और कांग्रेस 2 पार्षद और एक निर्दलीय है. पाटन नगर परिषद में भी भाजपा की जीत हुई.

भेड़ाघाट में दिलचस्प मुकाबला

भेड़ाघाट नगर परिषद का चुनाव रोचक था. यहां पर कांग्रेस से चुनाव जीतकर महेश तिवारी भाजपा में चले गए थे. पार्टी ने उन्हें ही अध्यक्ष पद का प्रत्याशी घोषित किया था. कांग्रेस की तरफ से चतुर पटेल थे. कांग्रेस के चतुर पटेल को 8 वोट मिले जब जबकि महेश तिवारी को 7 वोट पर ही संतोष करना पड़ा. दल बदलना भी महेश तिवारी को फायदा नहीं पहुंचा पाया.

शहपुरा में ननद भाभी

शहपुरा नगर परिषद चुनाव निर्विरोध हो गया. यहां बीजेपी की ननद-भाभी जीत गयीं. यहां पर भाजपा के कुल 11 पार्षद हैं जबकि कांग्रेस का 1 पार्षद. भाजपा नगर परिषद अध्यक्ष के लिए शिवांगी विक्रांत सिंह और उपाध्यक्ष के पद पर मोनिका शैलेंद्र सिंह ने नामांकन दाखिल किया था. कांग्रेस के पार्षद ही नहीं थे इसलिए उसने यहां प्रत्याशी ही नहीं उतारा था.

Tags: Jabalpur news, Municipal corporations election

अगली ख़बर