• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • जबलपुर में 'फर्जी' से मचा हड़कंप, पुलिस के हत्‍थे चढ़ा आर्मी कैप्टन

जबलपुर में 'फर्जी' से मचा हड़कंप, पुलिस के हत्‍थे चढ़ा आर्मी कैप्टन

आर्मी में नौकरी दिलाने के नाम पर करता था ठगी.

आर्मी में नौकरी दिलाने के नाम पर करता था ठगी.

जबलपुर पुलिस ने एक फर्जी आर्मी कैप्‍टन को गिरफ्तार किया है, जो कि युवाओं को सेना में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी का काम करता था. वैसे फर्जी पत्रकार (Fake Journalist) और फर्जी आईएएस (Fake IAS) के बाद अब सेना के फर्जी कैप्टन सोनू रजक (Fake Army Captain Sonu Rajak) का खुलासा होने से लोग हैरान हैं.

  • Share this:
जबलपुर. मध्‍य प्रदेश के जबलपुर शहर (Jabalpur City) में इन दिनों 'फर्जी'  अधिकारियों कीकी बाढ़ आई हुई है. पहले फर्जी पत्रकार (Fake Journalist), फिर फर्जी आईएएस (Fake IAS) और अब फर्जी सेना का कैप्टन पुलिस की गिरफ्त में आया है. जी हां, सेना में भर्ती कराने का सपना दिखाकर आरोपी फर्जी आर्मी कैप्टन सोनू रजक (Fake Army Captain Sonu Rajak) ने अभी तक कई युवाओं के सपनों से खिलवाड़ किया है. यकीनन इस जालसाज के झांसे में फंस कर कई लोगों ने अपनी जमा पूंजी भी गंवा दी है. सोमवार को इस पूरे फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ तो उसके मार्गदर्शन में ट्रेनिंग करने वाले युवक-युवतियां सन्न रह गए. रामपुर पुलिस चौकी ने इस जालसाज कैप्टन को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है. जबकि पुलिस ने आरोपी के पास से सेना की फर्जी मोहरें, लेटर आदि भी जब्त किए गए हैं.

यूं पुलिस के कब्‍जे में आया फर्जी कैप्‍टन
रामपुर चैकी प्रभारी आदित्य कुमार के मुताबिक सचिन राजपूत ने पुलिस में शिकायत की थी कि विगत 1 महीने से सोनू रजक नाम का व्यक्ति पड़ोस में किराये पर रहता है और अपने आपको आर्मी का कैप्टन बताता है. फर्जी कैप्टन बाकायदा आर्मी की काम्बेट एवं ग्रीन ड्रेस पहनता था जिसके कंधे पर जैक रायफल लिखा हुआ था. आरोपी यह ड्रेस पहनकर आता-जाता था और पूरे मोहल्ले के लड़कों को बताया था कि वह आर्मी में भर्ती के लिए ट्रेनिंग देने के साथ भर्ती भी करवाता है. यही नहीं, आरोपी राइट टाउन स्टेडियम में सुबह व शाम दोनों समय दौड़ की प्रैक्टिस भी करवाता था. वैसे आरोपी ने जबलपुर के बाहर भी बाकायदा ट्रेनिंग दी थी.

12 से अधिक लोगों को ठगा
आरोपी सोनू रजक ने अभी तक 12 से ज्यादा लोगो से लाखों रुपए ठग लिए हैं और वह पूरा पैसा लेकर भागने की फिराक में था. आरोपी को दबोचने के बाद पुलिस को अंदेशा है कि इस फर्जीवाड़े में सेना के कई और लोग भी शामिल हो सकते हैं. आर्मी में भर्ती कराने के लिए आरोपी ने शोभना एवं उसके भाई शुभम पटेल को जाली एडमिट कार्ड तक थमा कर हजारों रुपए ले लिए। थे. फिलहाल पुलिस सेना के फर्जी कैप्टन से पूछताछ करने में जुटी हुई है.

ये भी पढ़ें-झाबुआ उपचुनाव : दिग्विजय-कमलनाथ ने सिंधिया खेमे से बनाई दूरी

EXCLUSIVE: Honey Trap में फंसे MP के पूर्व सांसद की बनायीं 30 अश्‍लील CD

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज