Assembly Banner 2021

बहू पर थी गंदीं निगाहें इसलिए बेटे ने करा दिया पिता का कत्ल, पढ़िए रिश्तों को तार-तार करने वाली सत्य कहानी

पिता की हत्या के आरोपी बेटे और अन्य युवकों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

पिता की हत्या के आरोपी बेटे और अन्य युवकों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

Jabalpur : पुलिस के मुताबिक बेटे प्रमोद का कहना है कि उसके पिता शैल पटेल उसकी पत्नी पर गलत नज़र रखते थे. घर में उसके साथ अश्लील हरकत और इशारे करते थे.

  • Share this:
जबलपुर. जबलपुर (Jabalpur) में अपनी बहू पर गंदी निगाहें रखना एक ससुर को इतना भारी पड़ा कि उसके कत्ल (Murder) की इबारत खुद उसके ही बेटे ने लिख डाली. यह सनसनीखेज मामला जबलपुर के बरगी थाना क्षेत्र का है. पुलिस ने पांच दिन पहले हुए इस अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझा ली है. आरोपी बेटा और कत्ल को अंजाम देने वाले आरोपी अब पुलिस सीखचों के पीछे हैं.

जबलपुर के बरगी थाना पुलिस को 28 मार्च की दोपहर यह सूचना मिली थी कि गढ़ गोरखपुर बीट के जंगल में एक अधजली लाश पड़ी है. सूचना मिलने पर थाना स्टाफ सहित खुद एसपी भी मौके पर पहुंचे. पहली नज़र में पुलिस ने यह आशंका जताई कि शख्स की हत्या की गयी है और उसकी पहचान छुपाने के लिए लाश को जला दिया गया है. इस अंधे हत्याकांड का खुलासा करने के लिए एसपी ने अलग-अलग टीम बनायीं. देहात थाना सहित सिवनी पुलिस से भी इस मामले में पूछताछ की जाती रही. बाद में सिवनी जिले के घुंसोर स्थित ग्राम बरोदा माल में 52 साल के शैल पटेल की गुमशुदगी की शिकायत सामने आई.

जंगल में मिली अधजली लाश
बरगी पुलिस तत्काल शैल के परिवार के पास पहुंची और लाश की शिनाख्त के लिए उन्हें लेकर गयी. परिवार ने उनकी पहचान शैल पटेल के रूप में ही की. मृतक की पत्नी रमाबाई ने पुलिस को बताया कि 26 तारीख को उनके पति शैल कुमार पटेल को आयुष शर्मा उर्फ छोटू, मनोज उर्फ पंडा अपने साथ मोटरसाइकिल पर बैठा कर ले गए थे. उसके बाद से शैल घर नहीं लौटे. पुलिस ने आयुष शर्मा और मनोज को हिरासत में लेकर जब पूछताछ की तो इस हत्याकांड का खुलासा होते देर नहीं लगी.
बेटे ने रची साज़िश


हैरान कर देने वाला खुलासा हुआ है. शैल की हत्या की साजिश उसी के बेटे ने रची थी. आरोपियों ने बताया कि उनके ही गांव में रहने वाले प्रमोद पटेल ने अपने पिता की हत्या के लिए 50 हजार की सुपारी उन्हें दी थी. एडवांस में 15 हजार रुपये दे दिये थे. साज़िश के तहत आरोपियों ने शैल को बुलाया और अपने साथ मोटर साइकिल पर बैठाकर ले आए. घंसौर चौक पर उन्हें एक कार में बैठाया और कार में ही मारपीट कर गला घोंट कर हत्या कर दी. साक्ष्य मिटाने के लिए आरोपियों ने बरगी थाना अंतर्गत जंगल की ओर जाने वाले कच्चे रास्ते पर मृतक शैल पटेल का शव फेंका और आसपास की झाड़ियों को इकट्ठा कर लाश में आग लगा दी.

ये था मसला
पिता की हत्या कराने के पीछे पुलिस रिश्तों का कत्ल बता रही है. पुलिस के मुताबिक बेटे प्रमोद का कहना है कि उसके पिता शैल पटेल उसकी पत्नी पर गलत नज़र रखते थे. घर में उसके साथ अश्लील हरकत और इशारे करते थे. इसी से प्रमोद नाराज़ था और उसने पिता की हत्या की सुपारी दे दी.

आरोपी गिरफ्तार
पुलिस ने इस मामले में हत्या की साज़िश रचने वाले और सुपारी देने वाले मुख्य आरोपी प्रमोद पटेल, राहुल यादव, राहुल नेमा, मनोज और आयुष शर्मा को गिरफ्तार कर लिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज