जंगल से भटक गांव पहुंचे तेंदुए ने तीन लोगों को किया घायल

जबलपुर की पाटन तहसील स्थित जरोंद गांव में जंगल से भटका हुआ तेंदुआ पहुंच गया जिसे देखते ही गांव में दहशत फैल गई.तेंदुए ने वन रेंजर सहित एक के बाद एक तीन लोगों को घायल कर दिया लेकिन देर शाम तक पकड़ा नहीं जा सका .

pawan
Updated: August 11, 2018, 11:40 PM IST
जंगल से भटक गांव पहुंचे तेंदुए ने तीन लोगों को किया घायल
झाड़ी से निकल युवक पर हमला करता तेंदुआ
pawan
Updated: August 11, 2018, 11:40 PM IST
जबलपुर की पाटन तहसील स्थित जरोंद गांव में जंगल से भटका हुआ तेंदुआ पहुंच गया जिसे देखते ही गांव में दहशत फैल गई.तेंदुए ने वन रेंजर सहित एक के बाद एक तीन लोगों को घायल कर दिया लेकिन देर शाम तक पकड़ा नहीं जा सका . गांव के लोगों ने तत्काल डायल 100 को सूचना दी जिसके बाद मौके पर नुनसर पुलिस चौकी का बल पहुंच गया और उसने वन विभाग को जानकारी दी. तेंदुआ गांव से लगे एक खेत में झाड़ियों के बीच छिप गया,जहां वह नजर भी नहीं आ रहा था. सूचना पर वन विभाग की टीम बिना किसी सुरक्षा व्यवस्था के मौके पर पहुंच गई तो वहीं जिला प्रशासन का कोई भी अधिकारी नहीं पहुंचा. गांव में तेंदुआ पहुंचने की सूचना मिलते ही पाटन विधानसभा के विधायक नीलेश अवस्थी भी गांव पहुंच गए जिन्होंने वन विभाग और जिला प्रशासन पर लापरवाही के आरोप लगाए.

वन विभाग के डिप्टी रेंजर ने गांव के कुछ लोगों के साथ उस स्थान पर जाकर तस्दीक करने का प्रयास किया जहां तेंदुआ झाड़ियों में छिपा हुआ था उन्हें देखते ही तेंदुए ने हमला कर दिया.डिप्टी रेंजर की पीठ में तेंदुए के पंजे के निशान बन गए. वहीं एक ग्रामीण पर भी तेंदुए ने हमला किया और उसके सिर एवं हाथ में खरोंच मार दी.इस हमले के बाद तेंदुआ वापस झाड़ियों में जाकर छिप गया, वहीं वन विभाग ने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना देकर बल एवं पिंजरा भेजने की मांग की लेकिन हैरानी की बात यह है कि दो लोगों के घायल होने की सूचना मिलने के बाद भी करीब 5 घंटे तक न तो वन विभाग की टीम पहुंची और न ही कोई सुरक्षा के इंतजाम किए गए. इंतजार करते-करते वन विभाग के कर्मचारी भी धीरे-धीरे मौके से गायब हो गए.

इसी बीच दिलीप ठाकुर नामक एक युवक नशे में झाड़ियों के पास पहुंच गया.इस दौरान कुछ ग्रामीणों ने उसे रोकने का प्रयास भी किया लेकिन वह नहीं रुका.ग्रामीण युवक उसे बचाने के लिए जाल लेकर उसके पीछे-पीछे चल दिए लेकिन दिलीप झाड़ियों के बिल्कुल पास पहुंच गया और हाथ के इशारे से तेंदुए को बुलाने लगा. जिस पर तेंदुए ने हमला कर उसके सिर पर पंजा मार घायल कर दिया.  उसके सिर से खून की धार बहने लगी तो उसे अस्पताल भिजवाया गया.बहरहाल तीसरे युवक पर हमला करने के बाद तेंदुआ झाड़ियों से निकलकर खेत के किनारे एक पेड़ पर चढ़ गया.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर