अपना शहर चुनें

States

Lockdown 3.0: नेशनल हाईवे पर दनादन चल रहे हैं ऑटो, वजह जानकर आप भी हो जाएंगे हैरान

बिहार के 10 जिलों में सड़क निर्माण के लिए राशि स्वीकृत 
(सांकेतिक चित्र)
बिहार के 10 जिलों में सड़क निर्माण के लिए राशि स्वीकृत (सांकेतिक चित्र)

लॉकडाउन (Lockdown) की वजह से इन दिनों मध्य प्रदेश से गुजरने वाले नेशनल हाईवे (National Highway) पर महाराष्ट्र के ऑटो बड़ी संख्या में देखने को मिल रहे हैं, जो कि सभी के लिए हैरान करने वाली बात है.

  • Share this:
जबलपुर. लॉकडाउन (Lockdown) और कोरोना संकट का समय गरीब तबके पर किसी दोहरी मार से कम नहीं है. एक ओर रोजी रोटी का संकट तो वहीं दूसरी ओर अपने गंतव्‍य स्थल पर जाने की जद्दोजहद में हर कोई परेशान है. जबकि इन दिनों मध्य प्रदेश से गुजरने वाले नेशनल हाईवे (National Highway) पर महाराष्ट्र के ऑटो रिक्शा बड़ी संख्या में देखने को मिल रहे हैं और इसको लेकर हर कोई हैरान है. जी हां, कोरोना से जुड़ी एक और तस्वीर सामने आई है जहां मायानगरी में मीटर डाउन करने वाले ये ऑटो इन दिनों मध्य प्रदेश के राष्ट्रीय राजमार्गों से होकर दनादन अन्‍य राज्‍यों के लिए गुजर रहे हैं.

हर दस मिनट में आ रहे हैं ऑटो
जबलपुर से गुजरने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 7 पर अमुमन हर 10 मिनट में मुंबई से आ रहे ऑटो उत्‍तर प्रदेश की ओर जा रहे हैं. इन ऑटो में सवारी कोई ओर नहीं बल्कि ऑटो चालकों का परिवार है जो अपने गांव किसी भी सूरत में जल्द से जल्द पहुंचना चाहता है. जब तपती धूप में जब ये ऑटो चालक थक जाते हैं तो सड़क किनारे ही अपना ठिकाना बनाकर खाना भी पका लेते हैं.

ऐसे ऑटो चालक तय कर रहे हैं लंबा सफर
बेशक अन्य मजबूरों की तरह ये भी बेचैन हैं और कई दिनों से ऑटो चलाकर ये जबलपुर तो पहुंच गए हैंं, लेकिन मंजिल अब भी करीब नहीं है. इन ऑटो चालकों को अभी भी करीब 300 से 400 किलोमीटर का सफर तय करना है. वहीं, जबलपुर से लगे राष्ट्रीय राजमार्ग पर कुछ ऑटो चालक अपनी गाड़ी में ही चलती फिरती गृहस्‍थी लेकर चल रहे हैं. यही नहीं, उन्‍हें जहां ठिकाना मिल जाता है वहीं रुक जाते हैं. अमूमन हाईवे पर ट्रकों में भरकर मजदूर अपने गृह जनपद जाने के लिए मजबूर हैं, वहीं कोई समुचित परिवहन व्यवस्था न मिलने पर अब ऑटो चालकों ने अपने रोजी को ही संकट के समय अपने घर पर सुरक्षित पहुंचने का ज़रिया बना लिया है.



ये भी पढ़ें

एक और बैल न मिला तो कंधे पर रखकर चलाई बैलगाड़ी, किसी फिल्म से कम नहीं ये सीन
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज