अबु सलेम के खिलाफ नहीं चलेगा डबल मर्डर का केस, HC का फैसला
Jabalpur News in Hindi

अंडरवर्ल्ड डॉन अबु सलेम के खिलाफ भोपाल में डबल मर्डर मामले में केस नहीं चलेगा.

  • Share this:
अंडरवर्ल्ड डॉन अबु सलेम के खिलाफ भोपाल में डबल मर्डर मामले में केस नहीं चलेगा. मध्य प्रदेश हाईकोर्ट ने अबु सलेम की याचिका पर सुनवाई करते हुए यह फैसला सुनाया. सलेम ने उसके खिलाफ दर्ज किए गए 10वें केस को प्रत्यर्पण संधि का उल्लंघन बताया था.

भोपाल पुलिस ने झिरनिया मर्डर केस में अबु सलेम को आरोपी बनाया था. लेकिन प्रत्यर्पण संधि के तहत अबु सलेम पर पर सिर्फ नौ केस ही चलने थे. इसी आधार पर सलेम ने भोपाल पुलिस के केस दर्ज करने के फैसले को वर्ष 2014 में हाईकोर्ट में चुनौती दी थी.

उभय पक्षों की दलीलें सुनने के बाद जस्टिस विवेक अग्रवाल की एकलपीठ ने दो नवंबर को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था. हाईकोर्ट ने शुक्रवार को अपना फैसला सुनाते हुए अबु सलेम के खिलाफ 10वें केस को प्रत्यर्पण संधि का उल्लंघन बताया.



दरअसल, अबू सलेम ने भोपाल सेशन कोर्ट के उस आदेश को चुनौती दी है, जिसमें उसके खिलाफ प्रोडक्शन वारंट जारी किया गया था.
याचिका मे कहा गया था कि पुर्तगाल सरकार से हुई संधि के मुताबिक उस पर 9 आपराधिक मामले ही चलना चाहिए. लेकिन भोपाल में हुई एक हत्या का मामला भी जोड़ दिया गया है. इस सिलसिले मे भोपाल के सेशन कोर्ट ने प्रोडक्शन वारंट भी जारी किया था. सलेम ने इसी आदेश को चुनौती दी थी.

क्या है झिरनिया मर्डर केस
2002 में परवलिया इलाके के झिरनिया में अकबर उर्फ तुकाराम और नफीस की हत्या हुई थी. परवलिया पुलिस ने डबल मर्डर केस में अंडरवर्ल्ड डॉन अबु सलेम को नामजद आरोपी बनाया था. हत्या के वक्त अबु सलेम भोपाल में नहीं था, लेकिन आरोप है कि उसके इशारे पर शॉर्प शूटरों ने वारदात की थी.

अकबर शॉर्प शूटर था और वह अबु सलेम के लिए काम करता था. अकबर अबु सलेम का राजफाश नहीं करे, इसलिए कथित तौर पर सलेम ने उसकी सुपारी यूपी के शॉर्प शूटरों की दी थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज