होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /MP news: जबलपुर में बन रही है एमपी की सबसे लंबी रिंग रोड, सबसे लंबा पुल भी यहीं, जानें पूरी डिटेल

MP news: जबलपुर में बन रही है एमपी की सबसे लंबी रिंग रोड, सबसे लंबा पुल भी यहीं, जानें पूरी डिटेल

जबलपुर में सबसे लंबी रिंग रोड बन रही है,

जबलपुर में सबसे लंबी रिंग रोड बन रही है,

Jabalpur news: मध्य प्रदेश के जबलपुर में 110 किलोमीटर लंबी रिंग रोड बनने जा रही है, जिसे केंद्र सरकार की भारतमाला प्रोज ...अधिक पढ़ें

अभिषेक त्रिपाठी/ जबलपुर. मध्य प्रदेश का जबलपुर शहर इस समय बड़े बड़े कामों के लिए जाना जाने लगा है. हाल ही में जबलपुर नगर निगम के मेयर इन काउंसिल (एमआईसी) की बैठक में बड़े बड़े निर्णय लिए गए, जिनमें से एक यह था कि मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा तिरंगा झंडा जबलपुर गांधी स्मारक में लगाया जाएगा, जिसकी नींव गांधी जयंती के दिन रखी जायेगी और गणतंत्र दिवस के दिन वहीं पर झंडा फहराया जाएगा.इसके पहले एक खिताब जबलपुर के नाम यह भी हो चुका है की मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा फ्लाईओवर जबलपुर में बन रहा है, जिसकी लंबाई 7.5 किलोमीटर है जो की बहुत जल्द बनकर तैयार हो जाएगा.

नई पारी के लिए अग्रसर जबलपुर
यही सब खिताब अपने नाम करने के बाद अब एक नई पारी के लिए अग्रसर है जो की रिंग रोड का खिताब भी अब जबलपुर के हिस्से आएगा. गौरतलब है कि मध्य प्रदेश की सबसे बड़ी रिंग रोड जबलपुर में होगी. इसके एक हिस्से का काम शुरू करने के लिए टेंडर जारी कर दिया गया है. 110 किलोमीटर लंबी इस रिंग रोड को केंद्र सरकार की भारतमाला प्रोजेक्ट में शामिल किया गया है. उम्मीद की जा रही है कि बिना किसी व्यवधान यह रिंग रोड जल्द ही आकार ले लेगी. साथ ही महत्वपूर्ण बात यह है, की 16 किलोमीटर के हिस्से में सर्विस रोड भी बनाई जाएगी.

भेड़ाघाट से पनागर 39 किमी बनेगी रोड
केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने जबलपुर की रिंग रोड के दो हिस्सों का टेंडर जारी कर दिया है. सभी स्वीकृति के बाद भेड़ाघाट रेलवे स्टेशन से पनागर-कुसनेर तक 39 किलोमीटर और बरेला के शारदा माता मंदिर से तिलवारा के नजदीक मानेगांव तक 16 किलोमीटर के दो हिस्सों को पहले तैयार किया जाएगा. इसके लिए टेंडर प्रक्रिया लगभग 2 से 3 महीनों में पूरी की जाएगी. जनवरी 2023 में इस महत्वाकांक्षी परियोजना का भूमि-पूजन हो जाएगा.

55 किलोमीटर के एरिया से हो रही है शुरुआत
जबलपुर शहर की रिंग रोड की लंबाई कुल 110 किलोमीटर की होगी. सबसे पहले 55 किलोमीटर का एरिया बनाया जायेगा. एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर सोमेश बांझल के मुताबिक पहले चरण में जो टेंडर जारी किया गया है, उसको जल्द से जल्द फाइनल करके रिंग रोड का निर्माण आरंभ करने के प्रयास किए जा रह हैं. गौरतलब है की पहले दो हिस्सों के बनने पर रिंग रोड का करीब 50 फीसदी हिस्सा तैयार हो जाएगा.110 किलोमीटर में जिन हिस्सों का टेंडर जारी किया गया है.

सूत्रों के अनुसार निर्माण आरंभ करने से पहले भूअर्जन की प्रक्रिया पूरी की जा रही है. इस तरह शहर के चारों ओर एक रिंग के आकार की 150 फीट चौड़ी रोड तैयार होगी, जो आने वाले 25 सालों के लिए ट्रैफिक को कम करेगी और शहर वासियों की यात्रा को सुगम बनाएगी.

Tags: Jabalpur news, Madhya pradesh news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें