Home /News /madhya-pradesh /

40 साल से अंधा है महादेव, फिर भी बना अपराध की दुनिया का बादशाह, गिरफ्तार हुआ तो पूरा शहर उमड़ा

40 साल से अंधा है महादेव, फिर भी बना अपराध की दुनिया का बादशाह, गिरफ्तार हुआ तो पूरा शहर उमड़ा

जबलपुर के अंधे डॉन महादेव पहलवान की गिरफ्तारी के बाद उसे देखने शहर उमड़ पड़ा.

जबलपुर के अंधे डॉन महादेव पहलवान की गिरफ्तारी के बाद उसे देखने शहर उमड़ पड़ा.

Jabalpur crime news: आखिरकार महादेव पहलवान गिरफ्तार हो गया. मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले में जब यह खबर फैली तो पूरा शहर इस अपराधी को देखने उमड़ पड़ा. जबलपुर में महादेव अपराध की दुनिया का बेताज बादशाह था. लूट, हत्या, कब्जा सहित कई अपराध उसके नाम हैं. वह अंधा है, लेकिन 40 साल से अपराध को अंजाम दे रहा है. कभी किसी पुलिस अधिकारी की हिम्मत नहीं हुई कि उस पर हाथ डाल सके. महादेव तक पुलिस के हाथ उसके गोद लिए बेटे के जरिये पहुंचे. उसके बेटे पर 20 साल की एक लड़की ने रेप का आरोप लगाया है.

अधिक पढ़ें ...

जबलपुर. पुलिस ने जबलपुर के अघोषित डॉन महादेव अवस्थी को गिरफ्तार किया है. इसकी गिरफ्तारी इसलिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि एक तो यह अंधा, दूसरा यह 40 साल से अपराध की दुनिया का बेताज बादशाह बना हुआ है. किसी भी अपराध में यह थाने में पेश नहीं हुआ. इन 40 सालों में पुलिस के कई बड़े-बड़े अफसर जबलपुर ट्रांसफर होकर आए, लेकिन महादेव का कुछ नहीं बिगड़ा. उसे सोमवार को जब गिरफ्तार किया गया तो उसे देखने पूरा शहर उमड़ पड़ा. क्योंकि, किसी ने ये अंदाजा भी नहीं लगाया था कि महादेव पर पुलिस कभी हाथ भी डालेगी.

कई गंभीर अपराधों में लिप्त होने के बाद भी गिरफ्तारी से बच रहे महादेव पहलवान को कोतवाली पुलिस ने सोमवार सुबह सोते समय उठा लिया. पुलिस ने महादेव पहलवान उर्फ महादेव अवस्थी का कोतवाली के राजा रसगुल्ला के पास बने मकान से थाने तक मार्च निकाला. अंधा होने के बावजूद महादेव पहलवान ने अपराध की दुनिया में अपना अलग साम्राज्य बना रखा था. महादेव तक पुलिस के हाथ उसके गोद लिए बेटे के जरिये पहुंचे. दरअसल, 20 साल की एक लड़की ने महादेव पहलवान के दत्तक पुत्र यश अवस्थी के खिलाफ महिला थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी. लड़की ने महिला पुलिस को शिकायत दी थी कि वह 3 साल से उसे जानती है. सितंबर 2019 में यश घर दिखाने के बहाने उसे साथ ले गया और अकेलेपन का फायदा उठाकर बलात्कार किया. इसके बाद यह सिलसिला लगातार चल रहा है.

गोद लिए बेटे ने किया खुलासा

लड़की ने पुलिस को बताया कि वह यश से दूर रहना चाहती है, लेकिन वह धमकी देकर बार-बार उसे परेशान करता है. शिकायत के बाद मामला एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा तक पहुंचा. उन्होंने तत्काल यश को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए. इसके बाद पुलिस ने रविवार की रात में ही यश की तलाश कर उसे गिरफ्तार कर लिया. पुलिस पूछताछ में यश ने अपना अपराध तो कबूल किया ही, साथ ही अपने पिता यानी महादेव पहलवान के काले कारनामों का भंडाफोड़ भी कर दिया. महादेव पहलवान 10 से 25 प्रतिशत ब्याज पर लोगों को कर्ज देता था. इसके बदले सादे कागज में उनके हस्ताक्षर करवाता था. इसके बाद ब्याज और मूल रकम बढ़ाते हुए लोगों की जमीन, मकान और प्लॉट पर कब्जा कर लेता था.

पुलिस को मिले दस्तावेज और हथियार

पुलिस को पता चला कि महादेव का सूदखोरी का अवैध कारोबार बीते 15 सालों से ज्यादा वक्त से चल रहा है और अब तक वह सैकड़ों लोगों की संपत्ति हड़प चुका है. इसके अलावा उसके खिलाफ अड़ीबाजी, चाकूबाजी, ब्लैकमेलिंग, अवैध वसूली, मारपीट सहित हत्या में सहआरोपी होने के भी अपराध दर्ज हैं. बावजूद इसके आज तक पुलिस उसे गिरफ्तार नहीं कर सकी. महादेव पहलवान आंखों से देख नहीं सकता. बावजूद इसके वह आंख से देखने वालों पर कई सालों से राज कर रहा है. 40 साल पहले महादेव पहलवान का कमलेश रैकवार से विवाद हुआ था. कमलेश ने महादेव पर तेजाब फेंक दिया था. इससे उसकी दोनों आंखें खराब हो गई थीं.

वह काला चश्मा लगाने लगा था. उसने एक सैकड़ा से अधिक बदमाश लड़के पाल रखे थे जो उसके लिए वसूली का काम करते थे।बहरहाल पुलिस ने जब महादेव पहलवान के घर पर रेड मारी तो वह सो रहा था. उसे नींद से उठाते हुए जब घर की तलाशी ली तो सूदखोरी, कई लोगों की संपत्ति के दस्तावेज और हथियार मिले. इन्हें पुलिस ने जब्त कर लिया. बहरहाल, पुलिस अब महादेव पहलवान के खिलाफ हुई शिकायतें और अपराधों की जानकारी भी जुटा रही है, ताकि उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा सके.

Tags: Bhopal news, Jabalpur news, Madhya pradesh news, Mp news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर