Assembly Banner 2021

सेना का अलंकरण समारोह: आज चीन हमें आंख नहीं दिखा सकता- लेफ्टिनेंट जनरल घुमन

समारोह में सेना के 20 शहीदों और जवानों को सम्मान किया गया.

समारोह में सेना के 20 शहीदों और जवानों को सम्मान किया गया.

सेना ने अपने के 20 जवानों को सम्मानित किया है. दो जवानों को मरणोपरांत अलंकृत किया गया है. 18 जवानों को सेना पदक से सम्मानित किया जाएगा. सेना की मध्य कमान के आर्मी कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल आईएस घुमन इन जवानों को सम्मानित करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2021, 10:48 AM IST
  • Share this:
जबलपुर. देश की सुरक्षा में तैनात वीर जवानों के सम्मान में आज एक बार फिर जबलपुर गौरवान्वित हुआ. सेना की मध्य कमान का अलंकरण समारोह आज जबलपुर छावनी स्थित ग्रेनेडियर्स रेजिमेंटल सेंटर के प्रतिष्ठित कर्नल होशियार सिंह, पीवीसी परेड ग्राउंड में आयोजित किया गया. इस समारोह का आयोजन भारतीय सेना के उन वीर जवानों और वीर शहीदों को सम्मानित करने के लिए किया जाता है जिन्होंने राष्ट्र के लिए असाधारण बहादुरी और उत्कृष्ट सेवा का प्रदर्शन किया है. इस खास मौके पर मध्य कमान के आर्मी कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल आईएस घुमन ने 20 जाबांजों को उनकी शौर्य और वीरता के लिए सेना पदक (वीरता) से अलंकृत किया और विजेताओं को सम्मानित किया.

इस मौके पर लेफ्टिनेंट जनरल आईएस घुमन ने कहा- ये मेरे लिए गर्व का दिन है. ये समय है जब हम अपने वीर जवानों को सम्मान पेश करते हैं. आज हर चीज़ में मुझे जज़्बा, सच्चाई और लगन दिखी. हमारी सरकार और फ़ौज के ज़रिए जल्द नए प्रयास किए जा रहे हैं. बच्चों और परिवारों के लिए सरकार पूरा सहयोग करेगी.  उन्होंने कहा- हमारा चीन के साथ क्लेश हुआ. इसके साथ हमें एक बड़ी उपलब्धि भी मिली. हम हर चुनौती के लिए तैयार हो गए. देश की सुरक्षा और सम्मान में हम किसी भी तरह की कुर्बानी के लिए तैयार हैं. आज चीन हमें आंख नहीं दिखा सकता. चीन की सेना भी वापस जा रही है.

सलामी के साथ हुई कार्यक्रम की शुरुआत



इसके पहले अलंकरण समारोह की शुरुआत परेड की सलामी के साथ हुई. लेफ्टिनेंट जनरल आईएस घुमन ने दो मरणोपरांत सेना पदक (वीरता) सहित 20 वीरता पदक प्रदान किए. इसके अलावा लेफ्टिनेंट जनरल आईएस घुमन ने 11 अन्य विशिष्ट सेवाओ के लिए पदक और पेशेवर उत्कृष्टता के लिए 15 सेना इकाइयों को इकाई प्रशस्ति पत्र भी प्रदान किए.  इस मौके पर पुरस्कार पाने वालों जवानों के अलावा सेना के वरिष्ठ अधिकारी, जिले के पूर्व सैनिक उपस्थित थे.
इन जवानों का हुआ सम्मान

लेफ्टिनेंट कर्नल मनोज कुमार भारद्वाज, मेजर विनायक विजय, मेजर आशुतोष तोमर, मेजर निलव सुरेंद्र, मेजर भानु प्रताप सिंह, मेजर अजय कुमार, कैप्टन पीयूष शर्मा, कैप्टन रंजीत कुमार, कैप्टन सिद्धार्थ दास, कैप्टन रमन तिवारी, हवलदार पवन, हवलदार (अब नायब सूबेदार) हरिबीर सिंह, हवलदार (अब नायब सूबेदार) सुनील सिंह, हवलदार लल्तानल्ज़ोवा, लांस हवलदार (अब हवलदार) सुमित सिंह, नायक रवि रंजन सिंह (मरणोपरांत), नायक समय लाल सिंह, नायक सुरेंद्र यादव, सिपाही रोहित कुमार यादव (मरणोपरांत), पैराट्रूपर हरि वियापक.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज