• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • MP: वैक्सीन की पहली डोज के बाद आया बुखार, मेडिकल कॉलेज के चौकीदार की मौत, बवाल मचा

MP: वैक्सीन की पहली डोज के बाद आया बुखार, मेडिकल कॉलेज के चौकीदार की मौत, बवाल मचा

जबलपुर के मेडिकल कॉलेज में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लेने के बाद चौकीदार की मौत हो गई.

जबलपुर के मेडिकल कॉलेज में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लेने के बाद चौकीदार की मौत हो गई.

Madhya Pradesh: जबलपुर के नेताजी सुभाषचंद्र मेडिकल कॉलेज के चौकीदार भगवानदास ने कोरोना वैक्सीन की पहली डोज ली थी. उसके बाद उन्हें बुखार आया, जो उतरा ही नहीं. बाद में भगवानदास की मौत हो गई. परिजनों का आरोप है कि प्रशासन ने वैक्सीन के लिए दबाव डाला था.

  • Share this:

जबलपुर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के जबलपुर (Jabalpur) जिले के नेताजी सुभाषचंद्र मेडिकल कॉलेज में उस वक्त हड़कंप मच गया, जब कोरोना वैक्सीन लगने के बाद वहां के चौकीदार की मौत हो गई. वैक्सीन लगने के बाद उसे बुखार हो गया था. चौकीदार की मौत पर परिजनों और कर्मचारी संघ ने प्रशासन पर वैक्सीन के लिए दबाव डालने का आरोप लगाया है. आरोप है कि अस्वस्थ होने के बावजूद उसे वैक्सीन लगाई गई.

जानकारी के मुताबिक, भगवान दास गोतेले को 23 सितंबर को वैक्सीन का पहला डोज लगा था. इसके एक घंटे बाद भगवानदास को तेज बुखार आ गया. उनकी तबीयत बिगड़ती चली गई. बुखार के साथ-साथ उनके पेट का दर्द भी बढ़ गया. दवा खाने के बाद भी उनका बुखार ठीक नहीं हुआ. आखिरकार भगवान दास ने शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात दम तोड़ दिया. उनकी मौत के बाद परिजनों ने प्रशासन पर बड़े आरोप लगाये हैं. उन्होंने कहा कि शासन की ओर से एक आदेश जारी कर कहा गया है कि वैक्सीन नही लगवाने वाले कर्मियों को वेतन नहीं दिया जाएगा. इसी वजह से भगवान दास ने वैक्सीन लगवाई थी.

पीएम रिपोर्ट के बाद स्पष्ट होगी वजह

दूसरी ओर, चौकीदार की मौत की जानकारी मिलते ही कॉलेज प्रबंधन ने तुरंत शव को कब्जे में ले लिया. उनकी मौत की वजह जानने के लिए शव का पोस्टमॉर्टम कराया गया है. डॉक्टरों का कहना है कि पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही भगवान दास की मौत की वजह सामने आएगी.

6 करोड़ से ज्यादा को लगी पहली डोज

कोरोना वैक्सीनेशन अभियान सफल होता नजर आ रहा है. प्रदेश में अब तक 6 करोड़ 2 लाख 39 हजार 387  लोगों को कोरोना वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी है. इनमें से 4 करोड़ 65 लाख 75 हजार 590 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज और 1 करोड़ 36 लाख 63 हजार 797 लोगों को दूसरी डोज लगाई जा चुकी है. जनसंख्या के आधार पर पहला डोज लगाने के मामले में प्रदेश देश के टॉप-10 राज्यों में पहले स्थान पर है. अब शत-प्रतिशत जनता को वैक्सीन का पहला डोज लगाने के लिए 27 सितंबर को टीकाकरण महाअभियान-4 आयोजित होगा.

गौरतलब है कि, जनसंख्या के आधार पर पहला डोज लगाने के मामले में प्रदेश ने बाकी राज्यों को पीछे छोड़ दिया है. प्रदेश में चलाए जाए रहे वैक्सीनेशन के महा-अभियान में 21 जून को 17 लाख 62 हजार 838, 25 अगस्त को 24 लाख 94 हजार 563 और 17 सितम्बर को 29 लाख 22 हजार 537 डोज लगाए गए. प्रदेश ने हर महाअभियान में एक दिन में सबसे ज्यादा डोज लगाने का रिकॉर्ड कायम किया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज