लाइव टीवी

कमलनाथ के मंत्री ने BJP को दी नसीहत, बोले- CM हाउस की जगह खुद का घेराव करें विरोधी

Prateek Mohan Awasthi | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 6, 2019, 4:35 PM IST
कमलनाथ के मंत्री ने BJP को दी नसीहत, बोले- CM हाउस की जगह खुद का घेराव करें विरोधी
बीजेपी मुंबई जा कर बैठे, जहां शिवसेना शेर बनकर उस पर दहाड़ रही है- तरुण भनोत

मध्‍य प्रदेश के वित्त मंत्री तरुण भनोत (Finance Minister Tarun Bhanot) ने भाजपा (BJP) के प्रस्तावित सीएम हाउस घेराव को लेकर निशाना साधा है. उन्‍होंने कहा कि बीजेपी को खुद अपना घेराव करना चाहिए, क्योंकि वह खुद अपनों से ही घिरी हुई है. वह हमें नैतिकता का पाठ न पढ़ाए.

  • Share this:
जबलपुर. भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के प्रस्तावित सीएम हाउस घेराव कार्यक्रम को लेकर वित्त मंत्री तरुण भनोत (Finance Minister Tarun Bhanot) ने निशाना साधा है. बीजेपी को आड़े हाथ लेते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि बीजेपी को खुद अपना घेराव करना चाहिए, क्योंकि वह खुद अपनों से ही घिरी हुई है. झाबुआ उपचुनाव में मिली हार के बाद लगातार बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह (Rakesh Singh) के इस्तीफे की मांग उनकी पार्टी के विधायक कर रहे हैं. ऐसे में घेराव सीएम हाउस का करना चाहिए या बीजेपी के नेताओं को खुद का, यह समझा जा सकता है. इसके अलावा भनोत ने मुख्यमंत्री कन्यादान योजना (Chief Minister Kanyadaan Yojana) को लेकर भी अपनी बात रखी है.

मंत्री ने कही ये बात
वित्त मंत्री तरुण भनोत ने मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की राशि रोके जाने के मुद्दे पर स्पष्टीकरण दिया है. उनका कहना है कि सामूहिक विवाह योजना के लिए बजट की कोई कमी नहीं है, लेकिन प्रदेश के कुछ जिलों में लगातार शिकायतें मिलने के बाद यह बात सामने आई है कि पंजीयन में जमकर गड़बड़ियां की गई हैं. इसलिए जब तक जांच पूरी नहीं हो जाती तब तक राशि का आवंटन नहीं किया जाएगा.

बीजेपी कांग्रेस को न पढ़ाए नैतिकता का पाठ

जबकि प्रदेश की सियासत में आंख-मिचैली का खेल खेलने वाले ब्यौहारी सीट से विधायक शरद कोल के आए दिन सामने आ रहे बयानों पर वित्त मंत्री ने प्रतिक्रिया दी. हाल ही में कमलनाथ की तारीफ वाले बयान पर मंत्री तरुण का कहना था कि शरद कोल एक जागरूक जनप्रतिनिधि हैं और उन्हें पता है कि प्रदेश में विकास सीएम कमलनाथ से बेहतर और कोई नहीं कर सकता. जहां तक मामले को तूल देने का सवाल है तो बीजेपी इस मामले पर कांग्रेस को नैतिकता का पाठ न पढ़ाए. वित्त मंत्री ने कहा कि बीजेपी विधायक संजय पाठक और नारायण त्रिपाठी किस पार्टी से जीत कर आए थे यह सभी को पता है. बेहतर होगा कि भाजपा मुंबई जा कर बैठे जहां शिवसेना शेर बनकर उस पर दहाड़ रही है.

ये भी पढ़ें-भाजपा विधायक प्रह्लाद लोधी की विधानसभा सदस्यता रद्द, MP में शुरू हुई सियासत
Loading...

बंदरिया अपने घायल बच्‍चे को लेकर पहुंची अस्‍पताल, स्‍टाफ की आंखें हो गईं नम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जबलपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2019, 4:32 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...