हनीट्रैप मामले में कमलनाथ जो उजागर करना चाहते हैं, सबूत के साथ पेश करें: अरविंद भदौरिया

प्रदेश के सहकारिता मंत्री ने हनी ट्रैप मामले पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को चुनौती दी है. (File)

प्रदेश के सहकारिता मंत्री ने हनी ट्रैप मामले पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को चुनौती दी है. (File)

मध्य प्रदेश के सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया ने कहा है कि हनीट्रैप मामले में कमलनाथ जो उजागर करना चाहते हैं, वे सबूत के साथ पेश करें. ऐसे सभी वाइट कॉलर वालों को जेल में होना चाहिए. उन्होंने आरोप लगाया कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने कार्यकाल में में साक्ष्य छुपाकर रखे, अब उजागर करने की धमकी दे रहे हैं.

  • Last Updated: May 21, 2021, 4:22 PM IST
  • Share this:

जबलपुर. ‘हनीट्रैप मामले में कमलनाथ जो उजागर करना चाहते हैं, वे सबूत के साथ पेश करें. ऐसे सभी वाइट कॉलर वालों को जेल में होना चाहिए.’ यह बात प्रदेश के सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया ने कही. भदौरिया शुक्रवार को जबलपुर में मीडिया से चर्चा कर रहे थे. उन्होंने आरोप लगाया कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने कार्यकाल में में साक्ष्य छुपाकर रखे, अब उजागर करने की धमकी दे रहे हैं.

मंत्री भदौरिया ने कहा कि कमलनाथ के इस बयान से समझा जा सकता है कि अपनी सरकार में वे इन मामलों के तथ्यों को दबा कर बैठे हुए थे. अब जब उमंग सिंघार पर जांच कि आंच पहुंची है तो ऐसी धमकी देकर उसे बचाना चाहते हैं. गौरतलब है कि  पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक उमंग सिंघार के बंगले में उनकी महिला मित्र की आत्महत्या का मामला कांग्रेस के लिए गले की फांस बन रहा है. उन्हें बचाने पूरी कांग्रेस एक हो गई है.

ऐसी घटनाओं से कांग्रेस का पुराना रिश्ता- भदौरिया

सहकारिता मंत्री भदौरिया ने कहा कि ऐसी घटनाओं को लेकर कांग्रेस का ट्रैक रिकॉर्ड रहा है. चाहे सरला मिश्रा हत्याकांड हो या नैना साहनी तंदूर कांड और हाल ही हुआ हेमंत कटारे का काडं, सब एक ही हैं. उमंग सिंघार का भी एक जैसा ही मामला है. भदौरिया ने कहा- लेकिन, इस मामले में राजनीति नहीं होनी चाहिए. पुलिस जो जांच कर रही है उसे स्वतंत्र होकर जांच करने देनी चाहिए.
ये कहा था कमलनाथ ने

प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शुक्रवार को मीडिया के सामने दावा किया कि उनके पास हनीट्रैप की सीडी है. कमलनाथ ने कहा कि मुख्यमंत्री होने के नाते सीडी पहले उनके पास आई थी, उसके बाद कोर्ट में पेश हुई. प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने मीडिया से कहा- पुलिस मेरे पास जो सीडी लाई थी, वह ओरिजिनल है. लेकिन, मैं  प्रदेश में इस तरह की राजनीति नहीं करता. मैं राजनीतिक द्वेष से भरी राजनीति पसंद नहीं करता.

प्रदेश के पूर्व मंत्री उमंग सिंघार पर दर्ज FIR को लेकर पूछे गए सवाल पर कमलनाथ ने कहा कि हनी ट्रैप मामले को उनकी सरकार ने उजागर किया था. उमंग सिंघार पर आरोप सिद्ध करने वाला कोई बयान या प्रमाण नहीं मिला है. ऐसे में इस तरह की कार्रवाई ठीक नहीं है. कमलनाथ में उमंग सिंघार की महिला मित्र के सुसाइड मामले में जुडिशियल इंक्वायरी किए जाने की मांग की है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज