• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • विवेक तन्खा ने कांग्रेस लीगल सेल अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा, सोनिया गांधी ने आभार जताया

विवेक तन्खा ने कांग्रेस लीगल सेल अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा, सोनिया गांधी ने आभार जताया

विवेक तन्खा 5 साल से कांग्रेस लीगल सेल के अध्यक्ष थे,

विवेक तन्खा 5 साल से कांग्रेस लीगल सेल के अध्यक्ष थे,

MP NEWS: सवाल यह भी उठ रहा है कि इसके बहाने क्या वरिष्ठ नेता राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा (Vivek Tankha) अब पार्टी में नए चेहरों को जिम्मेदारी देने की वकालत कर रहे हैं. जब पार्टी की स्थिति कई मायनों में ठीक नहीं है इतने बड़े पद से खुद को अलग करना पार्टी को मजबूती देगा या उसे कमजोर कर देगा. यह समझा जा सकता है.

  • Share this:
जबलपुर. राज्यसभा सांसद और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विवेक तन्खा (Vivek Tankha) ने पार्टी के लीगल सेल अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है. इसकी वजह उन्होंने ये बतायी है कि नये चेहरे को मौका देने के लिए उन्होंने पद छोड़ा है. पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने उनका इस्तीफा मंजूर कर लिया है. ये इस्तीफा ऐसे वक्त दिया गया है जब नेतृत्व और बदलाव के मुद्दे पर पार्टी अंतर्द्वद्व और असंतोष से गुजर रही है.

कांग्रेस पार्टी में क्या वाकई सब कुछ ठीक चल रहा है. यह सवाल अब और भी ज्यादा मौजू हो गया है क्योंकि  पार्टी के वरिष्ठ और बड़े कद्दावर चेहरे भी अपनी जिम्मेदारी से इतिश्री करते जा रहे हैं. सबसे ताजा उदाहरण विवेक तन्खा का है. उन्होंने आज एक ट्वीट करके सियासी गलियारों में हलचल मचा दी है. तन्खा ने कांग्रेस के लीगल सेल अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है. इस बात की जानकारी उन्होंने खुद अपने ट्विटर हैंडल अकाउंट में दी है.

नये चेहरे को मौका
विवेक तन्खा का यह ट्वीट अब कई सवाल भी खड़े कर रहा है. अगर ट्वीट की भाषा समझें तो उन्होंने लिखा है 5 साल से उन्होंने लीगल सेल अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी संभाली. इतना समय किसी भी व्यक्ति के लिए जिम्मेदारी संभालने के लिए काफी होता है. मेरा इस पद को छोड़ने के पीछे का उद्देश्य यही है कि नए चेहरे आगे आएं और इस जिम्मेदारी को संभालें. मैंने इस पद से अपना इस्तीफा 25 जून को दे दिया है.

सोनिया गांधी ने आभार जताया
इस ट्वीट के बाद अब यह सवाल यह भी उठ रहा है कि इसके बहाने क्या वरिष्ठ नेता राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा अब पार्टी में नए चेहरों को जिम्मेदारी देने की वकालत कर रहे हैं. क्योंकि ऐसे मौके पर जब पार्टी की स्थिति कई मायनों में ठीक नहीं है इतने बड़े पद से खुद को अलग करना क्या पार्टी को मजबूती देगा या उसे कमजोर कर देगा. यह समझा जा सकता है. बहरहाल इस इस्तीफे को कांग्रेस पार्टी आलाकमान ने स्वीकार भी कर लिया है. इस पत्र के जवाब में कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी विवेक तन्खा का आभार जताया और इस्तीफा स्वीकार करने की जानकारी इस पत्र में दी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज