Home /News /madhya-pradesh /

मध्य प्रदेश में कब लागू होगा नया मोटर व्हीकल एक्ट? PIL पर हाईकोर्ट ने मांगा जवाब

मध्य प्रदेश में कब लागू होगा नया मोटर व्हीकल एक्ट? PIL पर हाईकोर्ट ने मांगा जवाब

जबलपुर हाईकोर्ट पहुंचा नए मोटर व्हीकल एक्ट का मामला

जबलपुर हाईकोर्ट पहुंचा नए मोटर व्हीकल एक्ट का मामला

नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच की याचिका (Plea) पर जबलपुर हाईकोर्ट (Jabalpur HighCourt) ने नए मोटर व्हीकल एक्ट (New Motor Vehicle Act) पर राज्य से जवाब मांगा है. याचिका में दलील दी गई थी कि जुर्माना (Fine) किसी की भी जान से बड़ा नहीं हो सकता.

अधिक पढ़ें ...
जबलपुर. केन्द्र सरकार के नए मोटर व्हीकल एक्ट (New Motor Vehicle Act) को अबतक मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में लागू नहीं किया गया है. जिसके खिलाफ एक महत्वपूर्ण जनहित याचिका (PIL) मध्यप्रदेश हाईकोर्ट में दायर की गई है. नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच की ओर से दाखिल याचिका में कहा गया है कि मुख्यमंत्री, मंत्रियों और राजनेताओं ने इस मामले को लेकर अलग अलग बयान जारी किए हैं. राज्य इसे कैसे और कब से लागू करेगा? ये स्पष्ट करे. कोर्ट ने इस याचिका पर राज्य के ट्रांसपोर्ट कमिश्नर एवं अन्य संबंधित पक्षों से जवाब मांगा है. मामले की अगली सुनवाई 11 नवंबर को रखी गई है.

हाईकोर्ट ने जारी किया नोटिस
नया मोटर व्हीकल एक्ट प्रदेश में आखिर अब तक क्यों लागू नहीं हुआ, इस बात का जवाब मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने नोटिस जारी करते हुए मांगा है. केन्द्र सरकार द्वारा लागू किया गया नया मोटर व्हीकल एक्ट मध्यप्रदेश में अब तक लागू नहीं हो पाया है. जिसे हाईकोर्ट ने गंभीरता से लेते हुए केन्द्र समेत प्रदेश सरकार को नोटिस जारी किया है. याचिकाकर्ता नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच की ओर से दलील दी गई है कि प्रदेश के कई राजनेता और खुद मुख्यमंत्री एक्ट को लेकर अलग अलग बयान दे चुके हैं, और विचार कर एक्ट को लागू करने की बात कह रहे हैं. नए मोटर व्हीकल एक्ट में जुर्माने की राशि को लेकर याचिकाकर्ता ने दलील दी कि जुर्माना किसी की भी जान से बड़ा नहीं हो सकता, इस लिहाज़ से इसका लागू होना बेहद ज़रूरी है.

News - उपभोक्टा मार्गदर्शन मंच ने याचिका लगाकर पूछा - कब लागू होगा नया मोटर व्हीकल एक्ट
उपभोक्ता मार्गदर्शन मंच ने याचिका लगाकर पूछा, कब लागू होगा नया मोटर व्हीकल एक्ट


राज्य कम नहीं कर सकता जुर्माना
याचिकाकर्ता ने ये दलील भी दी कि मोटर व्हीकल एक्ट में दिए गए प्रावधानों को प्रदेश सरकार बदल नहीं सकती है, वो चाहे तो जुर्माने की राशि को बढ़ा ज़रूर सकती है लेकिन घटा नहीं सकती. याचिकाकर्ता के मुताबिक सरकार एक समय सीमा तय कर ये बताए कि आखिर वो कब तक नए कानून को प्रदेश में लागू करेगी? अदालत ने याचिकाकर्ता के तर्कों को सुनकर प्रदेश के ट्रांसपोर्ट कमिश्नर समेत अन्य से जवाब तलब किया है. मामले की अगली सुनवाई 11 नवम्बर को रखी गई है.

ये भी पढ़ें -
महानायक अमिताभ बच्चन को मिला दादा साहेब फाल्के पुरस्कार, इस तरह हुई घोषणा
क्या सच में कॉन्डम नहीं होने पर दिल्ली में कट रहा है चालान, जानिए क्या कहती है ट्रैफिक पुलिस

Tags: Jabalpur High Court, Madhya pradesh news, Motor vehicles act, PIL

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर