• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • JABALPUR NEWLY MARRIED WOMAN COMMITS SUICIDE IN JABALPUR SHOCKED HUSBAND COMMITS SUICIDE IN GERMANY NODAA

मध्य प्रदेश : नवविवाहिता ने जबलपुर में कर ली आत्महत्या, सदमे में पति ने जर्मनी में कर ली खुदकुशी

जबलपुर में शोक संतप्त परिवार.

इस सुसाइड मिस्ट्री की असल वजह की तलाश में जुटी है पुलिस. लेकिन लड़की के पिता ने ससुराल वालों पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. पुलिस ने कहा है कि वह हर एंगल से पूरे मामले की जांच कर रही है.

  • Share this:
जबलपुर. ठीक 4 महीने पहले सात जन्मों के बंधन में बंधे एक नवदंपति की कहानी का अंत इतना बुरा होगा, ये कोई सोच भी नही सकता. जबलपुर में पत्नी ने अज्ञात वजहों से खुदकुशी कर ली. इसकी जानकारी जब जर्मनी में काम करने वाले पति को मिली तो उसने भी आत्महत्या कर ली.

4 माह पहले हुए थी शादी

सात समंदर पार बैठा पति अपनी पत्नी के चले जाने का गम सहन न कर सका. दिल दहला देनेवाली यह घटना जबलपुर के गोरखपुर थाना की है. यहां 4 महीने पहले ब्याह रचाकर पंजाब से जबलपुर आई एक नवविवाहिता ने खुदकुशी कर ली. गोरखपुर थाना अंतर्गत रामपुर इलाके में 4 महीने पहले शादी रचाकर आई नवज्योति आज अपनी जिंदगी को अलविदा कह चुकी है. जैसे ही यह सूचना उसके पति को मिली तो जर्मनी में उसने भी मौत को गले लगा लिया.

नवज्योति डिप्रेशन में थी!

पुलिस के अनुसार, होशियारपुर पंजाब की रहनेवाली 28 साल की नवज्योति का विवाह 4 महीने पहले जबलपुर के गोरखपुर मोहल्ले में रहनेवाले सिमरन मक्कड़ के साथ हुआ था. सिमरन जर्मनी में इंजीनियर के तौर पर कार्यरत थे. सिमरन के पिता हरविंदर सिंह, उनकी मां और एक बहन यहां रहते हैं. वही नवज्योति के पिता और भाई सेना में हैं. फिलहाल वे महू में तैनात हैं. नवज्योति अपने घर से महज 10 दिन पहले ही ससुराल लौटी थी. वह कुछ दिनों से डिप्रेशन में भी थी और कुछ दिनों पहले ही अपनी मां से बात करने के बाद उसने फोन उठाना भी बंद कर दिया था. इस बीच न जाने ऐसा क्या हुआ कि नवज्योति ने खुदकुशी कर ली और इस गम में जर्मनी में बैठा पति भी खुद को रोक न सका और उसने भी आत्महत्या कर ली.

पुलिस कर रही है जांच

इस सुसाइड मिस्ट्री की असल वजह क्या है, यह अब तक कह पाना मुश्किल है. लेकिन लड़की के पिता ने ससुराल वालों पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है.
Published by:Anurag Anveshi
First published: