लॉकडाउन में हुई हाई-प्रोफाइल शादी मामले में MP सरकार को नोटिस, HC ने कहा- क्यों न कराई जाए न्यायिक जांच?
Jabalpur News in Hindi

लॉकडाउन में हुई हाई-प्रोफाइल शादी मामले में MP सरकार को नोटिस, HC ने कहा- क्यों न कराई जाए न्यायिक जांच?
कोरोना संक्रमण के फैलने को लेकर हाई कोर्ट ने सख्त रूख अपनाया है.

कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लगे लॉकडाउन (Lockdown) में अपर आयुक्त की बेटी हाई प्रोफाइल शादी जबलपुर में हुई थी.

  • Share this:
जबलपुर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के जबलपुर (Jabalpur) में कोरोनाकाल में हुई एक हाई प्रोफाइल शादी ने लोगों को इस गंभीर संक्रमण से ग्रसित कर दिया. इस हाई प्रोफ़ाइल शादी में शामिल 150 से ज्यादा लोगों में कोरोना का संक्रमण पाया गया. इसके बाद मामला तुल पकड़ते जा रहा है. मामला हाई कोर्ट तक पहुंचा है. हाई कोर्ट (High Court) इसको लेकर सख्ती के मूड में है. हाई कोर्ट ने मामले में मध्य प्रदेश सरकार को नोटिस जारी किया है. कोर्ट ने मामले में 25 अगस्त तक राज्य सरकार से जवाब तलब किया है. जबलपुर में कोरोना संक्रमण फैलने के पीछे इस शादी को बड़ी वजह मानी जा रही है.

जबलपुर नगर निगम व अपर आयुक्त राकेश अयाची को भी हाई कोर्ट ने नोटिस जारी किया है. 15 अगस्त तक जवाब तलब कर हाई कोर्ट ने पूछा है कि क्यों न इस मामले में न्यायिक जांच कराई जाए. बता दें कि लॉकडाउन में अपर आयुक्त राकेश अयाची की बेटी की शादी हुई थी. बाद में इस शादी में शामिल डेढ़ सौ से ज़्यादा लोग कोरोना पाज़िटिव पाए गए थे. माना जाता है शहर में कोरोना के ज़्यादातर मरीज इसी शादी का नतीजा हैं.

एमपी में है कोरोना के हॉट स्पॉट
बता दें कि मध्य प्रदेश में कोरोना का कहर शुरू से ही रहा है. सबसे ज्यादा असर राजधानी भोपाल और इंदौर में देखने को मिला. भोपाल और इंदौर में बड़ी संख्या में कोरोना के मरीज मिले हैं. शुरू से ही ये दोनों शहर कोरोना का हॉट स्पॉट रहे हैं. यहां कई लोगों की मौत कोरोना के कारण हुई. बीते मंगलवार को मशहूर शायर राहत इंदौरी कोरोना से संक्रमित होने के बाद अस्पताल में इंदौर के अरबिंदो अस्पताल में भर्ती कराए गए थे. यहां दिल का दौरा पड़ने से उनकी मृत्यु हो गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज